नई दिल्ली : सिंघु बॉर्डर पर कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के बीच मौजूद एक फ्रीलांस पत्रकार को दिल्ली पुलिस ने 30 जनवरी को गिरफ्तार कर लिया था.

जानकारी के अनुसार मंदीप पूनिया नामक फ्रीलांस पत्रकार को राहिणी कोर्ट से जमानत मिल गई है, पूनिया पर ऑन ड्यूटी स्टेशन हाउस ऑफिसर से दुर्व्यवहार करने का आरोप था.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

पहले पुलिस ने 30 जनवरी की शाम को पुलिस कार्य में बाधा डालने के लिए हिरासत में लिया था बाद में उन्हें आईपीसी की कई धाराओं के तहत गिरफ्तार कर लिया गया.

जानकारी के अनुसार पूनिया प्रदर्शन कर रहे किसानों के पास खड़े थे, बाद में वे पुलिस के बैरिकेड्स पार कर आने लगे तो पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोका था.

इस दौरान जब उनसे आई कार्ड के बारे में पूछा गया तो वो उनके पास नहीं था, इसी बात पर पूनिया और पुलिसकर्मियों के बीच बहस हो गई थी, जिसके बाद पूनिया को हिरासत में लिया गया था.

30 जनवरी की शाम को पुलिस ने दो पत्रकारों को हिरासत में लिया था, मनदीप पूनिया के साथ ही धर्मेंद्र सिंह को भी पुलिस ने हिरासत में लिया था लेकिन बाद में आई कार्ड दिखाने पर उन्हें छज्ञेड़ दिया गया.

मनदीप पूनिया के साथियों ने आरोप लगाया था कि दिल्ली पुलिस ने पूनिया को जबरदस्ती पकड़ा है और उनके संबंध में किसी को जानकारी भी नहीं दी जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here