नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन की मार सबसे ज्यादा मजदूरों पर पड़ी है, लॉकडाउन के दौरान मजदूरों की घर वापसी और रास्ते में हादसे का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है, दो दिन बाद ही मजदूरों के साथ एक और हादसा सामने आया है, मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर में पाठा गांव के पास ट्रक पलटने से 5 मजदूरों की मौत हो गई, दरअसल, एक ट्रक में सवार होकर कई मजदूर यूपी जा रहे थे, तभी ये हादसा हुआ, ये घटना शनिवार-रविवार रात की है,

जब ये हादसा हुआ तब ट्रक में ड्राइवर और कंडक्टर सहित 18 लोग सवार थे, ये लोग हैदराबाद से यूपी जा रहे थे, रास्ते में पाठा गांव पहुंचते ही ट्रक पलट गया, इस हादसे में मौके पर ही 5 मजदूरों की मौत हो गई, जबकि 11 लोग घायल हो गए, नरसिंहपुर के जिलाधिकारी दीपक सक्सेना ने बताया, आम से लदे ट्रक में दो ड्राइवर और एक कंडक्टर समेत 18 लोग सवार होकर जा रहे थे, पाठा गांव के पास ट्रक के अचानक पलटने से 5 मजदूरों की मौत हो गई और 11 लोग घायल हो गए, जिलाधिकारी दीपक सक्सेना ने बताया कि मजदूर हैदराबाद से यूपी के आगरा जा रहे थे,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

वहीं, सिविल सर्जन डॉक्टर अनिता अग्रवाल ने बताया कि घायलों में दो लोगों को जबलपुर रेफर किया गया है, इनमें से एक के सिर में चोट और दूसरे को फ्रैक्चर है, इसके अलावा दो अन्य की हालत गंभीर है, घायल मजदूरों में से एक को कुछ दिन से सर्दी-खांसी थी, जिसके चलते मृतकों सहित सभी के कोरोना सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं,

बता दें कि बीते दिनों यानी शुक्रवार सुबह महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में रेल की पटरियों पर सो रहे 16 प्रवासी मजदूरों की एक मालगाड़ी की चपेट में आने से मौत हो गई थी, औरंगाबाद में बदनापुर-करमाड रेलवे स्टेशन के पास से जब एक मालगाड़ी गुजर रही थी, तब उसने 16 से अधिक मजदूरों को कुचल दिया, जबकि कुछ अन्य मजदूर घायल भी हुए,

भारतीय रेलवे की ओर से जारी प्रेस रिलीज के मुताबिक, जिन मजदूरों की मौत हुई वे सभी मध्य प्रदेश के रहने वाले थे और महाराष्ट्र के जालना में एसआरजी कंपनी में कार्यरत थे, 5 मई को इन सभी मजदूरों ने जालना से अपना सफर शुरू किया, पहले ये सभी सड़क के रास्ते आ रहे थे, लेकिन औरंगाबाद के पास इन्होंने रेलवे ट्रैक के साथ चलना शुरू किया


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here