नई दिल्ली : तीनों नए कृषि कानून के विरोध में लगभग दो महीने से किसानों का प्रदर्शन जारी है, भोपाल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच भिड़ंत भी देखने को मिली.

किसानों के समर्थन में पूर्व सीएम कमलनाथ के नेतृत्व में कांग्रेस और युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जवाहर चौक से राजभवन के लिए मार्च निकाला, लेकिन रास्ते में ही उसे पुलिस ने रोक लिया.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

तनातनी इतनी बढ़ गई कि पुलिस को भीड़ पर नियंत्रण के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा, इतना ही नहीं कार्यकर्ताओं को तितर बितर करने के लिए उनपर वाटर कैनन का भी प्रयोग किया गया.

ये कांग्रेस कार्यकर्ता राजभवन का घेराव करने जा रहे थे लेकिन पुलिस ने बीच रास्ते में ही दिग्विजय सिंह समेत 20 नेताओं को ऐहतियातन हिरासत में ले लिया.

पुलिस ने विधायक जयवर्धन सिंह और कुणाल चौधरी को भी हिरासत में लिया है, इतना ही नहीं नेताओं और कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज और ठंडे पानी की बौछार भी की, पुलिस की लाठी चार्ज के दौरान कांग्रेस के कई कार्यकर्ताओं को चोटें भी आई हैं.

राजभवन की तरफ कूच करने से पहले कमलनाथ ने कहा कि हम उन किसानों के समर्थन में खड़े हैं जो मोदी सरकार द्वारा लागू किए गए तीनों काले कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं.

वहीं उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस के लाठी चार्ज और आंसू गैस और वाटर कैनन छोड़े जाने पर आपत्ति जताते हुए शिवराज सरकार पर निशाना साधा.

उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि किसानों के समर्थन में आज मध्यप्रदेश के भोपाल में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे हजारों किसान भाइयों व कांग्रेसजनों पर शिवराज सरकार के इशारे पर किये गये बर्बर लाठीचार्ज, आंसू गैस व वाटर केनन छोड़े जाने और गिरफ्तारी की कड़ी निंदा करता हूं.

इस लाठीचार्ज में कई किसान भाइयों, कांग्रेसजनों, महिलाओं व मीडिया के साथियों को चोटें आई हैं, उनके स्वस्थ होने की कामना करता हूं, किसानों के समर्थन में हमारा संघर्ष जारी रहेगा, हम ऐसे दमन से डरने-दबने वाले नहीं हैं.

कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं पर लाठीचार्ज के बाद कांग्रेस ने रोष जारी करते हुए ट्विटर हैंडल पर लिखा, कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, शिवराज की तानाशाही ने ब्रिटिश राज की याद दिलाई.

भोपाल में शांतिपूर्ण प्रदर्शन पर शिवराज का लाठीचार्ज, आंसूगैस और वाटर कैनन का उपयोग करना गुलामी काल में अंग्रेजों द्वारा किए दमन की याद दिलाता है, शिवराज जी, आपकी उल्टी गिनती शुरू है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here