लखनऊ/बक्शी का तालाबः  उत्तर प्रदेश काँग्रेस कमेटी के मीडिया संयोजक ललन कुमार ने जनसंपर्क अभियान के तहत आज बक्शी का तालाब  विधानसभा के श्रीराम पुरम, दुर्जन पुर, पाण्डेय टोला इटौंजा, खेरिया, नगर चौगवाँ, चतुरपुर, केसरीपुर, सुवंशिपुर, महिगवाँ एवं कुम्हरावां का दौरा किया। श्रीराम पुरम में धर्मेन्द्र कुमार मिश्र को ललन कुमार ने सम्मानित किया। इनके दादा जी स्व० राम सागर मिश्रा ने भारत के स्वतंत्रता संग्राम में भाग लिया था।

दुर्जनपुर में जनसंपर्क के दौरान ललन कुमार ने स्थानीय लोगों से मिलकर उनकी समस्याओं को जानने का प्रयास किया। इस गाँव को आदर्श गाँव बनाने के लिए तत्कालीन गृहमंत्री और वर्तमान रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह जी ने गोद लिया था। गाँव की ख़राब सड़कों और नालियों को देख उन्होंने कहा कि “इतने बड़े नेता द्वारा गोद लिए गए गाँव में इतनी अव्यवस्था देखकर मैं चकित रह गया। न तो अच्छी नालियाँ हैं और न ही सड़कें। गाँव को देखकर लगा कि सारे देश के आदर्श गाँव का यही हाल होगा। राजनाथ सिंह भले ही गाँव को गोद लेकर भूल गए हों मगर यहाँ की समस्याओं को मैं निजी स्तर पर निपटाने का प्रयास करूँगा।“

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

इटौंजा में स्वतंत्रता सेनानी स्व० शिव दुलारे मिश्रा के पोते श्रीकांत मिश्रा को ललन कुमार ने सम्मानित करते हुए कहा कि : “देश की धरोहर रहे हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के सम्मान की परंपरा जारी रहनी चाहिए।“ वहीँ पांडेय टोला निवासी अंशु मिश्रा के पिता शिव सागर मिश्रा का देहांत कुछ दिन पहले हुआ था। उनके यहाँ पहुँचकर ललन कुमार ने संवेदनाएँ व्यक्त कीं।

ग्राम नगर चौगवाँ के प्रधान अभिषेक शर्मा जी से मुलाक़ात कर ललन कुमार ने स्थानीय मुद्दों पर चर्चा की। वहीँ ग्राम खेरिया निवासी कमल सेन जी का कुछ दिन पूर्व देहांत हो गया है। उनके परिवार की आर्थिक स्थिति भी ठीक नहीं है। उनके परिजनों से मुलाक़ात कर ललन कुमार ने आर्थिक मदद देने का आश्वासन दिया।

ग्राम चतुरपुर में पहुँचकर ललन कुमार ने नागरिकों से संवाद स्थापित किया। उनकी समस्याओं एवं उनके समाधानों पर विस्तृत चर्चा की। ग्राम केसरीपुर निवासी अमित सिंह तोमर जी के पिता बजरंग सिंह जी का देहांत हो गया है। उनके यहाँ पहुँचकर ललन ने परिजनों से संवेदनाएँ व्यक्त कीं। ग्राम सुवंशीपुर निवासी कौशल यादव जी का कल ऐक्सिडेंट हो गया था। जिसमें उनके शरीर पर काफ़ी चोटें आईं। आज उनसे मिलकर उनका हालचाल जानकार ललन कुमार ने बेहतर इलाज के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here