नई दिल्ली : राजस्थान में सियासी टकराव जारी है, सीएम गहलोत अपनी सरकार बचाने के लिए लगातार कोशिश कर रहे हैं, इस दौरान सीएम गहलोत ने विधायक दल की बैठक भी की, जिसमें गहलोत ने अपने विधायकों से कहा कि अगर धरना देने के लिए पीएम निवास जाना पड़े तो दिल्ली भी जाएंगे, विधायक दल की बैठक में सीएम गहलोत ने कहा, ‘आप लोग तैयार रहिए, अगर 21 दिन तक बैठना पड़े तो यहां रहेंगे, राष्ट्रपति भवन जाना पड़े तो राष्ट्रपति के पास जाएंगे या फिर पीएम निवास के बाहर दिल्ली में धरना देने जाना पड़े तो पीएम निवास दिल्ली भी जाएंगे.

इस दौरान परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा है कि जब तक राज्यपाल कोई फैसला नहीं कर लेते हैं तब तक कांग्रेस के हमारे विधायक एक साथ होटल में ही रहेंगे, राज्यपाल बीजेपी के साथ हैं और बीजेपी चाह रही है कि हमारे विधायक होटल से निकले ताकि वह उनको तोड़ सके लेकिन ऐसा होने वाला नहीं है, खाचरियावास ने कहा कि हमें कोर्ट या राज्यपाल से कहीं भी न्याय नहीं मिल रहा है, यह बड़ा संकट है लेकिन चाहे जितना समय लगे जीत हमारी होगी, हमारे पास विधायक हैं, हम लोग अपना कामकाज करेंगे, जिन विधायकों को जहां जाना है जाएंगे, मगर वापस होटल में आ जाएंगे, सचिन पायलट बीजेपी के साथ खेल में शामिल हैं और इस पूरे खेल के पीछे बीजेपी ही है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

वहीं सीएम गहलोत राज्यपाल कलराज मिश्र के साथ मुलाकात करेंगे, सीएम अकेले राज्यपाल से मिलेंगे, साथ ही विधानसभा सत्र बुलाने को लेकर राज्यपाल को सीएम गहलोत प्रस्ताव सौंपेंगे, वहीं राजस्थान बीजेपी का प्रतिनिधिमंडल शाम 5 बजे राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात करेगा, बता दें कि विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने को लेकर गहलोत गुट के विधायकों ने शुक्रवार को राजभवन में धरना दिया था, इस दौरान राज्यपाल कलराज मिश्र ने विधायकों से बात भी की, हालांकि गहलोत गुट अभी भी विधानसभा सत्र बुलाने के लिए अड़ा हुआ है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here