नई दिल्ली : सोमवार को किसान संगठनों और सरकार के बीच बातचीत खत्म होने के बाद राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक सरकार ये कानून वापस नहीं लेती है, तब तक हमारी घर वापसी नहीं होगी.

राकेश टिकैत ने कहा, “8 जनवरी 2021 को सरकार के साथ हमारी फिर से मुलाकात होगी.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

इस दौरान कृषि कानूनों को वापस लेने पर और MSP दोनों मुद्दों पर 8 तारीख को बात होगी, हमने सरकार को बता दिया है कि कानून वापसी नहीं तो घर वापसी नहीं.”

बता दें कि किसान आंदोलन का 39वां दिन गुजर गया है, सरकार और किसान संगठनों के बीच 8 राउंड की वार्ता हो चुकी है, लेकिन अबतक इसका कोई नतीजा नहीं निकला है, कृषि कानून को वापस करवाने की मांग पर अडिग हैं.

राकेश टिकैत ने कहा कि मीटिंग में किसानों ने एक सुर में कहा कि जब तक सरकार कानून वापस नहीं लेती है, तबतक कोई बातचीत नहीं होगी.

राकेश टिकैत ने कहा कि पिछली बार के मुकाबले इस बार सरकार के रुख में सकारात्मक बदलाव दिख रहा था, उन्होंने कहा कि सरकार ने कहा है कि अगले चार दिन में हम आपस में सलाह मशविरा करके 8 जनवरी को फिर से बातचीत की टेबल पर आएंगे.

राकेश टिकैत के मुताबिक किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा और 8 जनवरी को एक बार फिर कानून को रद्द करने के मुद्दे पर ही बातचीत होगी.

युद्धवीर सिंह ने कहा कि हमनें सरकार को स्पष्ट कह दिया है कि कानून पर चर्चा करने का अब कोई मतलब नहीं है क्योंकि हम पूरी तरह से कानून वापसी चाहते हैं, सरकार हमें संशोधन की ओर ले जाना चाहती है, लेकिन इसें हम स्वीकार नहीं करेंगे.

बता दें कि सरकार ने किसानों की मांग पर विचार करने के लिए एक संयुक्त कमेटी गठित करने का भी प्रस्ताव दिया था, लेकिन किसानों ने इसे भी खारिज कर दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here