शमशाद रज़ा अंसारी

फीस माफी एवं शिक्षा के अन्य मुद्दों को लेकर अभिभावकों के हित की लड़ाई लड़ रही ग़ाज़ियाबाद पैरेन्ट्स एसोसिएशन की दो महिलाओं के अस्पताल जाने के बाद सातवें दिन एसोसिएशन की अध्यक्ष सीमा त्यागी की तबियत भी बिगड़ गयी। जिसके बाद उन्हें सर्वोदय अस्पताल में भर्ती कराया गया।जहाँ खबर लिखे जाने तक उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी। दिन प्रतिदिन बढ़ रही समस्या को लेकर एवं प्रशासन के ढुलमुल रवैया को देखते हुए अभिभावकों ने हापुड़ चुंगी चौराहे पर चक्का जाम करने का ऐलान किया है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

ग़ाज़ियाबाद पैरेन्ट्स एसोसिएशन के उपाध्यक्ष जय बिष्ट ने बताया कि हम लोग भूख हड़ताल पर बैठने के साथ-साथ शासन-प्रशासन से अभिभावकों की मदद के लिए निरंतर वार्ता करने की भी कोशिश कर रहे हैं। परंतु प्रशासन के तानाशाही रवैया के वजह से हम चक्का जाम जैसी स्थिति के लिए मजबूर हैं। जय बिष्ट ने बताया कि प्रशासन की तरफ से मुद्दे को सुलझाने की जगह और उलझाया जा रहा है। जिला प्रशासन की तरफ से कभी एफआईआर करने की धमकी दी जा रही है तो कभी फिट करने की, लेकिन समस्या को सुलझाने के लिए कुछ नहीं किया जा रहा है। जबकि यह किसी एक व्यक्ति कि समस्या नहीं है। प्रदेश के समस्त अभिभावक इससे पीड़ित हैं। बुधवार को होने वाले इस चक्का जाम में जनपद के अभिभावकों के अलावा कई सामाजिक संगठन के साथ भारतीय किसान यूनियन(टिकैत) तथा भारतीय किसान यूनियन (भानु) के भी भाग लेने की संभावना है। जिनके साथ मिलकर हजारों की संख्या में लोग बुधवार को 11 बजे हापुड़ चुंगी चौराहे को जाम करेंगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here