नई दिल्ली : कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन के बीच शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि आखिर अमेरिकी पॉप स्टार रिहाना क्या गलत बोलीं,

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि रिहाना ने तो बस इतना ही कहा कि ‘क्यों नहीं हम इसके बारे में बात कर रहे हैं, इसके बाद इतनी घबराहट क्यों है कि विदेश मंत्रालय को बयान जारी करना पड़ा है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि आज किसान आंदोलन को अंदरूनी बताकर लोगों पर हमला किया जा रहा है, पीएम मोदी जब विदेश में जाकर ट्रंप के लिए प्रचार करते हैं तब वो अंदरूनी मुद्दा नही होता है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि बॉलीवुड कोई दो गुटों में बटा है, लेकिन कुछ चंद लोग अपने स्वार्थ के लिए अपने फायदे के लिए ट्वीट कर रहे है, ये बॉलीवुड है अपने आप मैं ही जीता है’.

लेकिन अब इस बार जिस तरह से कई कलाकरों ने ट्वीट किया है उनसे साफतौर पर दिखाई दे रहा है कि इन्होंने किसी के दबाव में आकर ट्वीट किया है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा डर में आकर लोग ट्वीट कर रहे है, सब एक साथ राग दरबारी ग रहे है’ और ये सब सरकार के दबाव में आकर ट्वीट कर रहे है.

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि मैं लाता जी का बहुत आदर करता हूं और उनके बारे मे मैं कोई टिप्पणी नही करना चाहूंगा, आज में राजनीति से जुड़ा हो उसके पीछे लता जी का बड़ा योगदान है, मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं, लेकिन बाकी सितारे जिन्होंने ट्वीट किया उन्हें सोचना चाहिए था, इज़्ज़त का खयाल रखना चाहिए था.

सिन्हा ने कहा कि कल पीएम जी ने सदन में जिस तरह से शब्दों का उपयोग किया, किसानों को ‘आंदोलन जीवा’ कहा, ये किस तरह से शब्द हमारे किसानों के लिए उपयोग किये गए, मै बहुत आहत हुआ हूं.

आप मुद्दा सुलझाने गए थे या उनका अपमान करने गए थे, जहां उनके ज़ख्मों पर मलहम लगाना था उनको आंदोलन जीवी कह दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here