लखनऊ (यूपी) : प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के प्रमुख शिवपाल यादव ने कहा कि उनकी पार्टी 2022 के विधानसभा चुनाव में किसी से गठबंधन नहीं करेगी.

शिवपाल यादव ने ऐलान कियाहै कि पार्टी 2022 में किसी से झुककर अलायंस नहीं करेगी, उन्होंने कहा कि हम छोटे-छोटे दलों को जोड़ेंगे और किसी एक बड़े दल के साथ गठबंधन करेंगे.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

शिवपाल यादव ने यह भी दावा किया कि पार्टी के बिना राज्य में किसी की सरकार नहीं बनेगी, उन्होंने कहा कि हम अगली सरकार में आएंगे और जब हम अगली सरकार में शामिल होंगे तो किसानों की समस्या खत्म होगी.

शिवपाल यादव ने कहा कि इस चुनाव में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का चुनाव चिह्न चाबी छाप रहेगा.

अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल यादव की पार्टी को अपने साथ समायोजित करने और उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाने का प्रस्ताव दिया था.

लेकिन अखिलेश की इस पेशकश को शिवपाल यादव ने ठुकरा दिया, उन्होंने अपना अलग गठबंधन बनाने और चुनावी बिगुल फूंकने का ऐलान किया है.

अखिलेश यादव ने कहा था कि 2022 के विधानसभा चुनाव में छोटे दलों के साथ हाथ मिलाया जाएगा, लेकिन किसी भी बड़े दल से कोई गठबंधन नहीं होगा.

शिवपाल यादव की पार्टी से गठबंधन पर अखिलेश का कहना था, ‘उस पार्टी को भी एडजस्ट करेंगे, जसवंतनगर उनकी सीट है, एसपी ने वह सीट उनके लिए छोड़ दी है और आने वाले समय में उनके लोग मिलें, सरकार बनाएं, हम उनके नेता को कैबिनेट मंत्री भी बना देंगे, इससे ज्यादा और क्या एडजस्टमेंट चाहिए?’

शिवपाल सिंह यादव पहले ही कह चुके हैं कि 2022 के यूपी चुनाव के लिए उनकी पार्टी का सपा में विलय नहीं होगा बल्कि वो तमाम छोटी-छोटी पार्टियों के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ेंगे, उनका कहना था, ‘अखिलेश यादव का मुझे एक सीट या फिर हमें कैबिनेट मंत्री पद का प्रस्ताव देना एक मजाक है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here