नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच अब सीबीआई करेगी, सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार इस मामले की जांच में सहयोग करे, अदालत ने कहा कि मुंबई पुलिस सीबीआई को सभी दस्तावेज सौंपे, कोर्ट ने पटना में दर्ज एफ़आईआर को सही ठहराया है, इस मामले में पांच पक्षों की याचिकाओं पर अदालत ने सुनवाई की थी, ये पक्ष सुशांत सिंह राजपूत का परिवार, रिया चक्रवर्ती, बिहार सरकार, महाराष्ट्र सरकार और सीबीआई हैं, इससे पहले इस मामले की जांच सीबीआई को देने को लेकर महाराष्ट्र और बिहार के बीच घमासान हो चुका है.

सुशांत के पिता के.के. सिंह के वकील ने सवाल उठाया है कि रिया ने सुशांत के स्टाफ़ को क्यों बदला, उन्होंने आरोप लगाया कि रिया सुशांत को कंट्रोल करना चाहती थी, इसीलिए उसने ऐसा किया, रिया चक्रवर्ती ने अपने वकील के जरिये कहा है कि सुशांत के परिवार के आरोप पूरी तरह ग़लत हैं, इस बीच, सुशांत के भाई ने कहा है कि इस मामले के गवाहों को महाराष्ट्र पुलिस द्वारा सुरक्षा दी जानी चाहिए, कुछ दिन पहले रिया चक्रवर्ती से ईडी ने 8 घंटे तक पूछताछ की थी, रिया ने सुशांत के पैसों में हेर-फेर को लेकर उन पर लगाए गए आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया था, रिया के मुताबिक़, उसने कभी भी सुशांत के खाते से कोई रकम नहीं चुराई और जो कुछ भी ख़र्च किया, वो अपनी इनकम से किया.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

के.के. सिंह ने एफ़आईआर में आरोप लगाया है कि रिया चक्रवर्ती ने उनके बेटे के बैंक खाते से 15 करोड़ रुपये अवैध तरीक़े से अपने खाते में ट्रांसफ़र करा लिए और उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित किया, ईडी रिया और उनके परिवार की दो संपत्तियों को लेकर भी जांच कर रही है, रिया ने कहा था कि खार वाले फ़्लैट के लिए उसने 60 लाख रुपये का लोन लिया था और बाक़ी के 25 लाख रुपये अपनी इनकम से दिए थे, ईडी ने रिया के अलावा उनके भाई सौविक चक्रवर्ती और उनके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती को भी पूछताछ के लिए बुलाया था.

सुशांत सिंह के पिता के.के. सिंह ने सुशांत द्वारा आत्महत्या करने के बाद पटना पुलिस में दर्ज शिकायत में रिया चक्रवर्ती, उनके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, मां संध्या चक्रवर्ती, भाई सौविक चक्रवर्ती, श्रुति मोदी समेत कुल छह लोगों के ख़िलाफ़ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज करवाया था, उन्होंने सात पेज की लंबी-चौड़ी शिकायत पटना के राजीव नगर थाने में अधिकारियों को सौंपी थी, जिसके आधार पर रिया व अन्य के ख़िलाफ़ मामला दर्ज हुआ था.

रिपोर्ट सोर्स, पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here