नई दिल्ली : ठाकरे सरकार ने शुक्रवार को एक नई स्किम की शुरुआत की है, इसके तहत राज्य के 8,82 लाख बेघरों को 100 दिनों अंदर घर दिए जाएंगे, ये घर ग्रामीण इलाकों में बनाए जाएंगे, घर बनाने का काम अगले साल 21 फरवरी से शुरू किया जाएगा.

महा आवास योजना नाम के नाम के इस स्कीम के लिए करीब 4 हज़ार करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं, CM ठाकरे ने स्कीम को लॉन्च करते हुए कहा कि उन्होंने अधिकारियों को बढ़िया क्वालिटी के घर बनाने का आदेश दिया है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

CM ठाकरे ने कहा, ‘सभी अधिकारियों को ये सुनिश्चित करना चाहिए कि मकान पक्का और अच्छी गुणवत्ता के हों, वे इतने आदर्श और सुंदर होने चाहिए कि दूसरे राज्यों के लोग उन्हें देखने आएं,’ उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने इसे पूरा करने के लिए महा आवास योजना में कई बदलाव किए हैं.

ठाकरे ने कहा, ‘हम लोगों को मकान बनाने के लिए न केवल अनुदान देंगे, बल्कि ये भी देखेंगे कि उन्हें जमीन मिले और शौचालय जैसी बुनियादी सुविधाएं हों.’

ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुश्रीफ ने कहा, ‘हमने 28 4,000 करोड़ के खर्च के साथ 28 फरवरी तक 882,135 घर बनाने का लक्ष्य रखा है, हम उन लोगों को जमीन देंगे, जिनके पास कोई भी जमीन का टुकड़ा नहीं है.

योजना के तहत सरकारी भूखंडों पर अवैध अतिक्रमण को भी नियमित किया जाएगा, हम ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ग्रामीण महाराष्ट्र में एक भी परिवार बेघर न रहे.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here