नई दिल्ली : भाजपा शासित नगर निगम के भ्रष्टाचार का कच्चा चिट्ठा जनता के सामने लाने की मुहिम के तहत आज आम आदमी पार्टी ने 46 अलग-अलग विधानसभाओं में करीब 94 मोहल्ला सभाओं का आयोजन किया।

इन मोहल्ला सभाओं में आम आदमी पार्टी के स्थानीय विधायक, स्थानीय निगम पार्षद, स्थानीय संगठन पदाधिकारी, कार्यकर्ताओं एवं स्थानीय निवासियों सहित लगभग 9,500 लोग शामिल हुए।  

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

आम आदमी पार्टी ने यह अभियान दिल्ली की जनता को भारतीय जनता पार्टी का असली भ्रष्टाचारी चेहरा दिखाने के लिए शुरू किया था, जो अबतक पूरी तरह सफल रहा है। पार्टी की यही कोशिश है कि दिल्ली के एक-एक व्यक्ति तक पहुंचकर, भाजपा द्वारा दिल्ली नगर निगम में किए जा रहे घोटालों की जानकारी घर-घर तक पहुंचा सकें।

और देश की जनता को नकाबपोश भाजपा का असली चेहरा दिखा सकें और दिल्ली निवासियों को भाजपा शासित एमसीडी के भ्रष्टाचार से बचा सकें।

आम आदमी पार्टी ने बयान जारी करते हुए कहा कि पार्टी द्वारा जनता के हित में शुरू की गई यह मुहिम अबतक सफल रही है। पार्टी द्वारा आयोजित मोहल्ला सभाओं में भाजपा के भ्रष्टाचार से परेशान लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही है।

आज 46 विधानसभा क्षेत्रों में करीब 94 स्थानों पर आयोजित मोहल्ला सभाओं में 9500 से अधिक स्थानीय लोगों ने हिस्सा लिया।

अभी तक की जितनी भी मोहल्ला सभाएं आम आदमी पार्टी द्वारा आयोजित की गई हैं, उनमें भाजपा के प्रति लोगों का गुस्सा साफ देखने को मिला है। जितने भी लोगों ने मोहल्ला सभाओं में हिस्सा लिया है, वे सभी इस बात को पूरी तरह से समझते और मानते हैं कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा शासित दिल्ली नगर निगम नीचे से लेकर ऊपर तक भ्रष्टाचार में डूबी हुई है।

नगर निगम के अधीन आने वाले किसी भी विभाग में, कोई भी काम पैसे दिए बिना नहीं कराया जा सकता। लेकिन भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम सभी कर्मचारियों से सारे काम तो करा रही है लेकिन उन्हें वेतन देने के नाम पर जेब खाली होने का रोना रोने लगती है। ये तो सरासर अन्याय है।

भाजपा के इस अन्याय और खोखले वादों से परेशान हो चुकी जनता की ओर से खुलकर यह आवाज उठ रही है कि अब नगर निगम से भारतीय जनता पार्टी की सत्ता को उखाड़ना बहुत जरूरी हो गया है।

नगर निगम में एक ईमानदार पार्टी की सत्ता को स्थापित करना समय की जरूरत बन गया है।  जब तक नगर निगम की सत्ता में किसी ईमानदार पार्टी की सरकार नहीं बनेगी, तब तक नगर निगम के भ्रष्टाचार को खत्म करना नामुमकिन है। लोगों ने खुलकर नगर निगम में आम आदमी पार्टी की सरकार बनाने की बातें कही हैं।

उल्लेखनीय है कि जनता को जागरूक करने के लिए आदमी पार्टी कि खोल-पोल की यह मुहिम 7 जनवरी 2021 से शुरू कि गई है और आज इसका 17वां दिन था। आम आदमी पार्टी अलग-अलग क्षेत्रों में मोहल्ला सभाओं के माध्यम से भाजपा शासित नगर निगम के भ्रष्टाचारों पर चर्चा करती है और जनता को अपने विचार और दुख प्रकट करने का मौका देती है।

इन मोहल्ला सभाओं का आयोजन आम आदमी पार्टी के स्थानीय विधायक, आम आदमी पार्टी के स्थानीय निगम पार्षद, संगठन पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं द्वारा किया जाता है। स्थानीय जनता को मोहल्ला सभा में आने के लिए आमंत्रित किया जाता है और जनता के साथ भाजपा शासित नगर निगम में हुए भ्रष्टाचार के ऊपर चर्चा की जाती है।

उसी श्रृंखला में आज भी आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की 46 विधानसभा क्षेत्रों में करीब 94 मोहल्ला सभाओं का आयोजन किया, जिसमें दिल्ली की जनता ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

मोहल्ला सभाओं में लोगों की बढ़ती भीड़ से एक बात तो सिद्ध हो गई है कि लोग भ्रष्टाचार से लिप्त भाजपा की सरकार से परेशान हो चुके हैं।

सभी का यही कहना है कि एमसीडी से भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए भाजपा को सत्ता से बाहर करके एक ईमानदार पार्टी को सत्ता सौंपने की जरूरत है और लोग दिल्ली नगर निगम में भी आम आदमी पार्टी की सरकार बनाना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here