नई दिल्ली: लॉकडाउन की वजह से आरएसएस के सदस्य अब उत्तर प्रदेश में अपने घरों के अंदर शाखाएं लगाएंगे और प्रार्थना करेंगे, संघ के इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि शाखाएं स्वयंसेवकों के घरों में लगेंगी, संघ के सदस्य अपने घरों में परिवार के साथ शाखाएं लगाएंगे और संघ प्रार्थना करेंगे, कोरोना लॉकडाउन के चलते इसे एक नए प्रयोग के तौर पर शुरू किया गया है, संघ के सदस्यों द्वारा ये नया प्रयोग आरएसएस के सरकार्यवाहक भैयाजी जोशी के आह्वान पर किया जा रहा है, इस बारे में प्रांत प्रमुखों को सूचना दे दी गई है, संघ को उम्मीद है कि इस तरीके से पूरे प्रांत में 50 लाख परिवारों को एक साथ जोड़ा जा सकेगा,

बता दें कि अभी तक संघ की शाखाएं मैदानों में लगती थीं, इसमें सूर्य नमस्कार, योग और दूसरे नियमित अभ्यास कराए जाते हैं, इन शाखाओं में प्रार्थना भी की जाती है, लेकिन लॉकडाउन के चलते काफी दिनों से यह शाखाएं नहीं लग पा रही हैं, इसलिए उत्तर प्रदेश में खासकर गोरखपुर में इस तरह का प्रयोग किया जा रहा है, बता दें कि जनता कर्फ्यू के दिन संघ ने शाखाओं का समय बदल दिया था, पीएम मोदी ने उस दिन लोगों को सुबह 7 बजे से लेकर रात के 9 बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करने को कहा था, इसके लिए संघ ने सुबह 6,30 बजे से पहले या फिर रात के 9,30 बजे के बाद शाखाएं लगाने को कहा था,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

संघ इस बारे में लोगों को सूचना देने के लिए स्वयंसेवक घर-घर जाने की बजाए फोन पर लोगों को जानकारी दे रहे हैं, इस जानकारी के साथ स्वयंसेवकों से यह भी आग्रह किया गया है कि वह परिवारों में शाखा का आयोजन तो करें, लेकिन कुटुंब शाखा या प्रार्थना के फोटो वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर ना करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here