नई दिल्ली : टाटा ग्रुप एयर इंडिया के लिए एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट फाइल कर सकता है, सूत्रों के मुताबिक टाटा ग्रुप एयर एशिया इंडिया को व्हीकल के तौर पर इस्तेमाल कर सकता है.

जिसमें टाटा संस का बड़ा हिस्सा होगा, ऐसा माना जा रहा है कि एयर इंडियाके 200 कर्मचारियों को भी एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट में जगह दी जाएगी.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

एयर इंडिया के लिए बोली लगाने की समय सीमा सोमवार को खत्म हो रही है, इस बीच प्रमुख कॉर्पोरेट घरानों टाटा, अडानी और हिंदुजा ने इसे खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है, हालांकि, आधिकारिक तौर पर किसी ने भी इस बारे में कुछ भी नहीं कहा है.

एयर इंडिया के लिए बोली लगाने की अंतिम तिथि 14 दिसंबर है और सरकार ने अभी तक समय सीमा नहीं बढ़ाई है, हालांकि सरकार ने एयर इंडिया के लिए बोली लगाने वालों के लिए इन्टीमेशन तारीख को बढ़ाकर 5 जनवरी तक कर दिया है, जो पहले 29 दिसंबर तक थी.

अभी फिलहार टाटा संस प्रीमियर एयरलाइन सर्विस विस्तारा सिंगापुर एयरलाइन के साथ मिलकर चला रहा है.

सिंगापुर एयरलाइंस के एयर इंडिया में हिस्सेदारी के लिए पार्टनरशीप के लिए तैयार नहीं था, जिसके बाद एयर एशिया के साथ मिलकर एयर इंडिया में हिस्सेदारी खरीदने का प्लान कर रहा है.

टाटा ग्रुप ने एयर इंडिया यानी टाटा एयरलाइन्स को 1932 में शुरू किया था और सरकार ने 1953 में इसका नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया और इसका नाम एयर इंडिया हो गया.

इंडस्ट्री के मुताबिक एयर इंडिया का नियंत्रण एक बार फिर टाटा के पास जा सकता है, सरकार ने एयर इंडिया को बेचने के लिए नियमों में ढ़ील की है, अब वह एयर इंडिया और एयर इंडिया एक्सप्रेस में 100 फीसदी हिस्सेदारी बेच रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here