नई दिल्ली/वॉशिंगटन : अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के नतीजों को लेकर सियासी खींचतान जारी है, राष्ट्रपति ट्रंप ने चुनावों में धांधली का आरोप लगाया है और दबाव बनाने में जुटे हैं.

इस बीच ट्रंप समर्थकों ने यूएस कैपिटल हिल बिल्डिंग के बाहर हंगा’मा किया, जो बाइडन ने यूएस कैपिटोल हिल में ट्रंप समर्थकों के हंगामे को राज’द्रोह करार दिया है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

रायटर की रिपोर्ट के मुताबिक, यूएस कैपिटल हिल में हुई हिंसा में एक महिला की गोली लगने से मौत की खबर जबकि संसद के बाहर हुई हिं’सा में 3 अन्य लोगों की मौत हो गयी है.

प्रदर्शनकारियों की पुलिस के बीच हिं’सक झड़प के बाद परिसर को बंद कर दिया गया, कैपिटल के भीतर यह घोषणा की गई कि बाहरी सुरक्षा खतरे के कारण कोई व्यक्ति कैपिटोल हिल परिसर से बाहर या उसके भीतर नहीं जा सकता.

ट्रंप समर्थकों द्वारा की गयी हिं’सा में कैपिटल हिल के भीतर गोली लगने से एक महिला की मौत हो गयी थी, अब खबर आ रही है कि संसद के बाहर हुई हिं’सा में भी 3 अन्य लोगों की मौत हो गयी है.

वाशिंगटन डीसी पुलिस चीफ रॉबर्ट कॉन्टी ने बताया कि इन तीनों की मौत कैपिटल हिल के बाहर हुई हिं’सा के दौरान मेडिकल इमरजेंसी के चलते हुई है.

उपराष्ट्रपति पेंस भी ट्रंप से खफाप्रेसिडेंट इलेक्ट की जीत पर मुहर लगाने के लिए कांग्रेस यानी अमेरिकी संसद का संयुक्त सत्र बुलाया जाता है, इसकी अध्यक्षता उप राष्ट्रपति करते हैं और कुर्सी पर माइक पेंस थे.

ट्रंप समर्थकों की हरकत से बेहद खफा दिखे, उन्होंने कहा- यह अमेरिकी इतिहास का सबसे काला दिन है, हिं’सा से लोकतंत्र को दबाया या हराया नहीं जा सकता.

यह अमेरिकी जनता के भरोसे का केंद्र था, है और हमेशा रहेगा, सिर्फ पेंस ही नहीं कही रिपब्लिकन सीनेटर भी इस हिंसा से नाराज़ नज़र आए और कहा कि ये देखकर अमेरिका की आने वाली नस्लें हमारे बारे में क्या सोचेंगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here