नई दिल्ली : मुंबई की पीओके से तुलना करने के मामले पर कंगना रनौत को लेकर हुई रार के बाद संजय राउत के रुख में आज थोड़ी नरमी नजर आई, राउत ने कहा कि कंगना से कोई व्यक्तिगत मामला नहीं है, यह महाराष्ट्र का मामला है, राउत ने कहा कि कंगना के साथ कोई व्यक्तिगत मुद्दा नहीं है, यह महाराष्ट्र का विषय था, उन्हें अपने ट्विटर हैंडल का उपयोग खुद करना चाहिए, किसी राजनीतिक पार्टी को अपने ट्विटर हैंडल का इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं देनी चाहिए, यह शिवसेना का मुद्दा नहीं है, महाराष्ट्र के मसले पर सभी को एक साथ आना चाहिए.

संजय ने शुक्रवार को कहा था कि मुंबई मराठी मानुष के बाप की है, शिवसेना महाराष्ट्र के ऐसे दुश्मनों को खत्म किए बिना नहीं रुकेगी, संजय ने ट्वीट किया कि मुंबई मराठी मानुष के बाप की है, जिनको यह मंजूर नहीं, वो बताए उनका बाप कौन है, शिवसेना महाराष्ट्र के ऐसे दुश्मनों को खत्म किए बिना नहीं रुकेगी, उन्होंने अपनी इस लाइन के साथ ‘प्रॉमिस’ भी लिखा.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

कंगना रनौत ने मुंबई की पीओके से तुलना की है तब से विवाद जारी है, कंगना का यह बयान राउत के खिलाफ था, कंगना रनौत ने शुक्रवार को कहा कि वह 9 सितंबर को मुंबई पहुंच रही हैं, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले, 9 सितंबर को मुंबई आऊंगी, मैं मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंचकर टाइम पोस्ट करूंगी, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले, वहीं, कंगना और संजय के बीच जंग में ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना भी कूद गई है, MNS ने कहा कि पीओके के साथ मुंबई की तुलना करने पर कंगना के खिलाफ राजद्रोह के आरोपों के तहत केस दर्ज हो.

रिपोर्ट सोर्स, पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here