पटना (बिहार) : बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में महागठबंधन और एनडीए के बीच ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी ने बाजी मार ली है, सीमांचल में 5 सीटें पर जीत दर्ज कर ली है, महागठबंधन ने असदुद्दीन ओवैसी पर आरोप लगाया है कि बिहार में जो एंटी एनडीए वोट थे, उसे बांट दिया, ओवैसी फैक्‍टर की वजह से महागठबंधन की पूर्ण बहुमत की सरकार नहीं बन रही और मामला फंसता जा रहा है.

इन आरोपों का जवाब देते हुए ओवैसी बोले,” अब नाच न जाने तो आंगन टेढ़ा, कर्नाटक की दो सीट हार गए तो वहां मैं गया था, मध्‍य प्रदेश में हार गए तो क्‍या वहां मेरी पार्टी लड़ी, गुजरात में हार गए तो मैं गया था क्‍या? इन लोगों का एक गुरूर है कि तुम कैसे हो गए हमारे सामने, यही तो जम्‍हूरियत की खूबसूरती है कि हर कोई किसी के सामने खड़ा हो सकता है और हम खड़े हुए, उन लोगों की आवाज बनने की कोशिश की जिन्‍हें वह दबा रहे थे.”

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

ओवैसी आगे बोले,” आप पांच-पांच टाइम के एमएलए हैं, अब बाढ़ आई तो कह रहे हैं कि यह कटान नहीं, धसान है, तो इसका जवाब तो जनता देगी न, हम तो जनता के बीच लगातार काम कर रहे थे, अब आप नहीं जीत पा रहे हैं तो हर चीज हम पर डाल रहे हैं तो डाल दीजिए, हमें कोई फर्क नहीं पड़ता, ये तो पुराना राग है इनका, जैसे कोई छोटे बच्‍चे के हाथ से चॉकलेट छीन लेता तो वह रोता रहता है मम्‍मी, मम्‍मी और कहता रहता है कि मेरा चॉकलेट छीन लिए.” 

ब्यूरो रिपोर्ट, पटना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here