नई दिल्ली : पीएम मोदी ने बुधवार को मंदिर की पहली ईंट रखी, मंदिर की नींव रखने के साथ ही इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है, सपा के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने भूमि पूजन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अयोध्या में मस्जिद थी, है और रहेगी, उन्होंने साथ ही ये भी कहा कि मुसलमानों को खौफ खाने की जरूरत नहीं है.

सांसद शफीकुर्रहमान ने कहा कि अयोध्या में बाबरी मस्जिद है, थी और रहेगी, बीजेपी सरकार ने ताकत के बल पर कोर्ट से फैसला कराया, मुसलमान अल्लाह के भरोसे हैं, वो पीएम मोदी और सीएम योगी के भरोसे नहीं हैं, मुसलमानों को खौफ खाने की जरूरत नहीं है. सांसद ने आगे कहा कि संग-ए-बुनियाद रखना, जम्हूरियत का कत्ल करना है, इस जम्हूरी मुल्क में यह जो अमल हो रहा है, उन्होंने शायद इस पर कभी गौर नहीं किया कि हम जो कुछ भी यहां कर रहे हैं, वह किस बुनियाद पर कर रहे हैं, उनकी सरकार है, उन्होंने ताकत के दम पर संग-ए-बुनियाद रख दी, कोर्ट से भी अपने पक्ष में फैसला करा लिया.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

बता दें मस्जिद को लेकर बयान देने वाले शफीकुर्रहमान पहले नेता नहीं हैं, इससे पहले हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने भी कहा था कि बाबरी मस्जिद थी, है और रहेगी, वहीं, ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के जनरल सेक्रेटरी मौलाना वली रहमानी ने भी कहा था कि बाबरी मस्जिद कल भी थी, आज भी है और कल भी रहेगी, उन्होंने कहा कि मूर्तियां रख देने से या फिर पूजा-पाठ शुरू कर देने या एक लंबे अर्से तक नमाज पर प्रतिबंध लगा देने से मस्जिद की हैसियत खत्म नहीं हो जाती.

रिपोर्ट सोर्स, पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here