कानपुर में मुस्लिम युवक की पिटाई साम्प्रदायिक अपराधियों को खुली छूट का नतीजा: दानिश अली


शमशाद रज़ा अंसारी
अमरोहा। कानपुर में मुस्लिम युवक की बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा बच्ची के सामने पिटाई करने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये अमरोहा सांसद कुँवर दानिश अली ने इसे साम्प्रदायिक अपराधियों को मिली छूट का परिणाम बताया है।
कुँवर दानिश अली ने ट्वीट करते हुये लिखा कि कानपुर में एक निर्दोष ग़रीब मुस्लिम युवक की उसकी मासूम बच्ची के सामने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं द्वारा बेरहमी से की गई पिटाई उत्तर प्रदेश की एक भयावह तस्वीर दिखाती है। जहां राजनीतिक फ़ायदे के लिए साम्प्रदायिक अपराधियों को खुली छूट दे दी गई है।
ज्ञात हो कि कानपुर में बर्रा थाना क्षेत्र के रामगोपाल चौराहे पर एक मुस्लिम व्‍यक्ति को भीड़ द्वारा पीटे जाने का मामला सामने आया है। वायरल वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लोग एक व्यक्ति को पीट रहे हैं और एक बच्ची उनसे अपने पिता को छोड़ने की गुहार लगा रही है।

वीडियो में लोग उस व्यक्ति को ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाने के लिए मजबूर करते भी दिख रहे हैं। खबर के मुताबिक, बाद में व्यक्ति को पुलिस को सौंप दिया गया। पिटाई करने वालों ने उस पर धर्म परिवर्तन में शामिल होने का आरोप लगाया है। पीटने वाले बजरंग दल के लोग बताए जा रहे हैं। उन पर आरोप है कि पुलिस कस्‍टडी के दौरान भी उन्होंने इस शख्‍स को पीटा। पुलिस की मौजूदगी में क़ानून हाथ में लेकर इस तरह किसी की पिटाई करना यह दर्शाता है कि इन्हें किसी का खौफ़ नही है।
साउथ कानपुर नगर की डीसीपी रवीना त्यागी ने कहा “एक वायरल वीडियो में कल बर्रा में रामगोपाल चौराहा पर एक मुस्लिम युवक को कुछ लोग पीटते हुए दिख रहे थे। वीडियो के आधार केस दर्ज कर लिया गया है और आरोपियों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here