लखनऊ (यूपी) : अखिलेश यादव से आज नागालैण्ड, तमिलनाडु, पुडुचेरी के अतिरिक्त अन्य संगठनों के प्रतिनिधियों ने भेंट की और उन्हें अपने ज्ञापन सौपें, इन सभी ने उम्मीद जताई कि अखिलेश यादव के नेतृत्व में सन् 2022 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी.

नागालैण्ड के जिला डिमापुर निवासी परमहंस त्रिपाठी एवं फिरोज कमल ने अखिलेश यादव को 9 दिसम्बर 2020 को नागालैण्ड में होने वाले हार्नबेल त्योहार में शामिल होने का आमंत्रण दिया.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

यह त्योहार कोहिमा और दीमापुर में धूमधाम से मनाया जाता है, हार्नबेल पर्व में नागालैण्ड की संस्कृति की झलक मिलती है, इससे पता चलता है कि पुराने समय में नागालैण्ड में लोग कैसे रहते थे, उनके जीवन-रहनसहन की झांकिया इसमें होती है.

खुर्जा से आए लोगों ने अखिलेश यादव से मुलाकात की और उन्हें मिट्टी के बर्तनों का किचन सेट भेंट किया, खुर्जा की रामा मिट्टी कला फैक्ट्री एवं अली रिफाइनरी खुर्जा के नीतेश यादव, वीरपाल यादव, रिजवान अली, रैदास कुमार, आदिल ठाकुर तथा आदित्य कुमार ने अखिलेश को मिट्टी से बने मग, डोंगा, कढ़ाई, प्रेशरकूकर भेंट किए.

सुहेल सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष जियालाल राजभर के साथ प्रमुख पदाधिकारियों ने आज अखिलेश यादव से भेंट कर उनहें पांच सूत्रीय मांग पत्र तथा स्मृति चिह्न दिया.

सुहेल सेना की मांग है कि राजभर समाज को अनुसूचित जनजाति का आरक्षण और विमुक्ति जाति का प्रमाण पत्र राज्य सरकार जारी करें, वाराणसी में महाराजा सुहेलदेव के नाम पर पार्क का निर्माण कराया जाय, राजभर समाज के निर्दोष नौजवानों की रिहाई हो.

सुहेल सेना के प्रतिनिधिमण्डल में शामिल थे सर्वश्री भार्गव भैया लाल, उमेश राजभर, लालमन राजभर, बलिराम राजभर, शिवकुमार राजभर, मंटू राजभर, राकेश राजभर, संजय यादव पहलवान, हरीश यादव, शिवम यादव, राजबली राजभर और विनोद पटेल.

तमिलनाडु समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमण्डल ने अखिलेश यादव से भेंट की, इस में सर्वश्री इलांगो, शंकर यादव तथा अरूण मुरूगन शामिल थे.

ब्यूरो रिपोर्ट, लखनऊ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here