नई दिल्लीः कृषि क़ानूनों को वापस लिये जाने और एमएसपी पर क़ानून बनाने की मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे किसान आंदोलन के नेता राकेश टिकैत ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर एमएसपी पर क़ानून नहीं बनाया जाता है तो पूरे देश में आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार कृषि क़ानूनों को वापस ले और MSP पर क़ानून बनाए नहीं तो आंदोलन जारी रहेगा। हम पूरे देश में यात्राएं करेंगे और पूरे देश में आंदोलन होगा।

बता दें कि किसानों ने आज 12 बजे से लेकर तीन बजे के दरम्यान चक्का जाम करके विरोध दर्ज कराया था। किसानों के आह्वान पर यह चक्का जाम यूपी और उत्तराखंड के अलावा देश के अन्य राज्यों में किया गया था। गौरतलब है कि केन्द्र सरकार द्वारा बनाए गए तीन कृषि क़ानूनों के विरोध में किसान ढ़ाई महीने से दिल्ली की सरहदों पर आंदोलन कर रहे हैं। 26 जनवरी को किसानों ने ट्रैक्टर परेड भी निकाली थी, इसमें हिंसा भी हो गई थी।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

वहीं केन्द्र सरकार द्वारा बार बार कहा जा रहा है कि क़ानूनों को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है, ये क़ानून किसानों के हित में हैं। जबकि किसानों का कहना है कि इन क़ानूनों के लागू होने से किसान अपने खेत में ही गुलाम बनकर रह जाएगा। अब केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा है कि सरकार बड़े खुले मन से इसके समाधान में लगी हुई है, जो भी कानून बने हैं वो किसान हित में हैं। विडंबना ये है कि इन्हीं कानूनों को बनाने के लिए पिछली सरकारें भी बहस करती रहीं और अब उन मुद्दों पर आपत्ति जताई जा रही है जो इनमें हैं ही नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here