नई दिल्ली : केजरीवाल की अपील पर पूरे दिल्ली के दुकानदार और व्यापारी दिल्ली सरकार द्वारा डेंगू के खिलाफ चलाए जा रहे ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ अभियान में शामिल हुए। सीएम अरविंद केजरीवाल ने इस कदम की सराहना हुए दिल्ली के सभी दुकानदारों को ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ अभियान में हिस्सा लेने और डेंगू से खुद को और अपने ग्राहकों को बचाने के लिए धन्यवाद दिया। डेंगू के खिलाफ चलाए जा रहे ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ अभियान के सातवें सप्ताह दिल्ली में सभी दुकानदारों को हर रविवार को अपनी दुकान और आसपास के क्षेत्रों का निरीक्षण करने और जमा पानी को सूखाने/बदलने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है, ताकि उनके आसपास डेंगू मच्छरों के प्रजनन को रोका जा सके।

केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘डेंगू के खिलाफ लड़ाई में इस बार दिल्ली के हमारे व्यापारी भाइयों ने भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया और अपनी-अपनी दुकानों पर चेकिंग कर रूके हुए पानी को बदला। ऐसे कर वे खुद को और अपने ग्राहकों को भी डेंगू से बचा रहे हैं। 10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ अभियान के जरिए दिल्ली इस बार फिर डेंगू को हरा रही है।’’

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

रविवार को इस अभियान के समर्थन में दिल्ली भर के बाजार एसोसिएशन आगे आए। तिलक नगर मार्केट एसोसिएशन के प्रमुख श्री सुशील खत्री ने कहा, ‘मैं डेंगू के खिलाफ सीएम अरविंद केजरीवाल के इस अभियान का समर्थन करता हूं। हम सभी बाजारों में इसको लागू कर रहे हैं और अपने आसपास के वातावरण का अच्छी तरह से निरीक्षण करके नियमित रूप से जमा पानी को बदल रहे हैं। हम दिल्ली के सीएम द्वारा शुरू किए गए ‘10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’ अभियान का भी समर्थन करते हैं। आज हमने इस अभियान में हिस्सा लिया है और हम डेंगू के खिलाफ इस लड़ाई में सक्रिय भागीदारी जारी रखेंगे।अभियान में आशु गोयल, सुशील खत्री, मोहन गांधी, राजीव सूरी, रवनीत कौर और अन्य व्यापारियों और दुकानदारों ने भाग लिया।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने यह भी कहा था कि सभी दिल्लीवासियों के सामूहिक प्रयासों से हमें डेंगू मच्छरों के प्रजनन को रोकना है और अपने परिवार और पूरी दिल्ली को डेंगू से बचाना है। आसपास के बाजार क्षेत्रों और अपनी दुकानों का निरीक्षण करने से दुकानदारों के साथ-साथ ग्राहक भी डेंगू से सुरक्षित रहेंगे।

ब्यूरो रिपोर्ट, दिल्ली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here