नई दिल्ली : देश के प्रमुख किसान मंचों ने, जिनके घटक संगठन 500 से अधिक हैं, जिसमें अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति की वर्किंग ग्रुप और सरदार बल्बीर सिंह राजेवाल और गुरनाम सिंह के नेतृत्व वाले संगठन हैं, आज गुरूद्वारा रकाबगंज में निम्न घोषणाएं की:

1. देश भर में किसान विरोधी, जनविरोधी तीन खेती के कानून तथा बिजली बिल 2020 के विरुद्ध एक व्यापक संयुक्त मंच का गठन किया गया है। इसका नेतृत्व एक समन्वय करेगा। इसमे वीएम सिंह, बल्बीर सिंह राजेवाल, गुरनाम सिंह, राजू शैट्टी, योगेन्द्र यादव रहेंगे। यह समिति  निम्न दोनों कार्यक्रम का अयोजन करेंगी।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

2. 5 नवम्बर को अखिल भारतीय रोड ब्लाक का आयोजन किया जाएगा।

3. 26-27 नवम्बर 2020 को ‘दिल्ली चलो’ का आयोजन किया जाएगा।

4. यह संघर्ष 3 खेती के कानून तथा बिजली बिल 2020 पर केन्द्रित रहेगी।

5. इस विरोध के लिए राज्य तथा क्षेत्रीय स्तर पर बहुत व्यापक जन गोलबंदियां की जाएंगी तथा इन मांगों पर आंदोलन विकसित किया जाएगा।

6. अखिल भरतीय स्तर पर यह आंदोलन सरकारी कार्यालयों पर, केन्द्र सरकार समेत तथा भाजपा व उनके सहयोगी दलों के विरूद्ध तथा कारपोरेट को लक्षित करेगा।

7.बैठक में केन्द्र सरकार द्वरा पंजाब में सवारी गड़ियों के न चलने की स्थिति में माल गाड़ियों के संचालन को रोकने की कड़ी निन्दा की। यह जनता के विरुद्ध ब्लेकमेलिंग का तरीका है और किसी जनवादी सरकार के लिए शर्मनाक काम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here