Urdu

Epaper Urdu

YouTube

Facebook

Twitter

Mobile App

Home दिल्ली आँडियो रिकाॅर्डिंग से साफ है, महिला पार्षद के जेठ निशांत पांडे ने...

आँडियो रिकाॅर्डिंग से साफ है, महिला पार्षद के जेठ निशांत पांडे ने अलग-अलग मामलों में बिल्डर समेत तीन लोगों से लाखों रुपये लिए : दुर्गेश पाठक

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी ने भाजपा शासित एमसीडी में चल रहे भ्रष्टाचार का बड़ा खुलासा किया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने न्यू अशोक नगर के वार्ड 4ई की भाजपा निगम पार्षद रजनी पांडे के जेठ निशांत पांडे पर मकान का लेंटर डालने की एवज में लाखों रुपये रिश्वत लेने संबंधी बातचीत का आडियो जारी किया। जिससे पता चलता है कि निशांत पांडेय और क्षेत्र के जे.ई. ने बिल्डर समेत तीन लोगों से करीब 12 लाख रुपए लिए। दुर्गेश पाठक ने भाजपा से महिला पार्षद और उनके जेठ निशांत पांडेय समेत पूरे गिरोह को पार्टी से निष्कासित करने और दिल्ली पुलिस को मामले का संज्ञान लेकर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं, स्थानीय विधायक रोहित मेहरोलिया ने कहा कि जनता ने अपने क्षेत्र के विकास के लिए निगम पार्षदों को चुना था, लेकिन निगम पार्षदों ने विकास कार्य छोड़ कर जनता का खून चूसना शुरू कर दिया है।

पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि 2017 में हुए दिल्ली नगर निगम के चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने यह कहते हुए अपने तमाम मौजूदा निगम पार्षदों के टिकट काट दिए थे कि यह सभी पार्षद भ्रष्टाचार में बुरी तरह से लिप्त हैं और दिल्ली की जनता के बीच बेहद ही अलोकप्रिय हैं। उन्होंने यह भी बताया कि उस समय के तत्कालीन बीजेपी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी जी ने ‘नए चेहरे नई उड़ान’ का नारा दिया था और कहा था कि नए चेहरों के साथ हम दिल्ली की राजनीति में एक नई कहानी लिखेंगे।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

दुर्गेश पाठक ने कहा कि जिन नए चेहरों के साथ भारतीय जनता पार्टी दिल्ली में भ्रष्टाचार मुक्त नगर निगम देने का दावा कर रही थी, वही नए चेहरे भ्रष्टाचार के मामले में भाजपा के पुराने निगम पार्षदों के भी बाप निकले। आज भारतीय जनता पार्टी के निगम पार्षद कूड़ा उठाने से लेकर एक गरीब आदमी के मकान की छत डालने तक में पैसा खाते हैं। ऊपर से नीचे तक भारतीय जनता पार्टी का एक-एक निगम पार्षद भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है। हालांकि यह बात देश की जनता भली-भांति पहले से ही जानती है, परंतु आज हम इस संबंध में एक ऐसा साक्ष्य प्रस्तुत करने जा रहे हैं, जिसके बाद भाजपा के निगम पार्षदों का भ्रष्टाचार किस प्रकार से कण-कण में व्याप्त है, वह पूरी तरह से सत्यापित हो जाएगा। आज हम आपके समक्ष भाजपा की एक निगम पार्षदा के जेठ अर्थात उनके पति के बड़े भाई, जो इन पार्षदा महोदया का सारा भ्रष्टाचार का यह तंत्र चलाते हैं, उनकी बातचीत का एक ऑडियो क्लिप रख रहे हैं। इस ऑडियो क्लिप के माध्यम से आपको यह पता चल जाएगा कि भाजपा के निगम पार्षद मकानों के लेंटर में जो पैसा खाते हैं, वह कीमत किस आधार पर तय होती है, कितने बड़े मकान का कितना पैसा होता है, कितने मंजिल मकान का कितना पैसा होता है, यह तमाम बातें इस ऑडियो क्लिप से आप सभी को भलीभांति समझ आ जाएगी।

त्रिलोकपुरी विधान सभा के न्यू अशोक नगर वार्ड 4ई से चयनित निगम पार्षदा रजनी पांडे के जेठ निशांत पांडे और उसी क्षेत्र के एक बिल्डर के बीच हुई पैसों को लेकर वार्तालाप की ऑडियो क्लिप मीडिया के समक्ष प्रस्तुत करने के पश्चात दुर्गेश पाठक ने कहा कि रजनी पांडे जी तो मात्र चेहरा हैं, सही मायने में क्षेत्र के निगम पार्षद होने का सारा काम धाम और भ्रष्टाचार का सारा तंत्र उनके जेठ निशांत पांडे जी ही संभालते हैं। निशांत पांडे जी को उनके क्षेत्र में लेंटर पांडे के नाम से भी जाना जाता है। लोग कहते हैं कि एक बार को गब्बर सिंह से तो बचा जा सकता है, परंतु लेंटर पांडे के चंगुल से नहीं बचा जा सकता। उन्होंने बताया की निशांत पांडे अपने गुर्गों के माध्यम से क्षेत्र में कोई ऐसा मकान, कोई ऐसी जगह नहीं छोड़ते, जहां से वह पैसा उगाई ना करते हों।

दुर्गेश पाठक ने बताया कि इस रिकॉर्डिंग में तीन अलग-अलग भ्रष्टाचार के मामलों का जिक्र है। पहले मामले में बिल्डर बता रहा है कि कुल 700000 रुपये दिए हैं। जिसमें से 400000 रुपये निशांत पांडे उर्फ लेंटर पांडे को दिए और 300000 रुपये उस क्षेत्र के जे.ई. को दिए। दूसरे मामले में 200000 रुपये निशांत पांडे को दिए गए और 150000 लाख रुपए उस क्षेत्र के जेई को दिए। तीसरा और सबसे महत्वपूर्ण मामला जिसमें निशांत पांडे जी का अपना ही कोई मित्र जिसका नाम वह शिवम बता रहे हैं, जो 150 गज का मकान बना रहा था और जिसको लेकर निशांत पांडे जी काफी नाराज दिखाई दिए और खुद कह रहे हैं कि वह मात्र 150000 रुपए देकर गया है, पूरा हिसाब नहीं करके गया।
दुर्गेश पाठक ने कहा कि यह तो मात्र एक निगम पार्षद की कहानी है। भाजपा का हर एक निगम पार्षद इसी तरह से अपने अपने क्षेत्र में वहां पर रहने वाली गरीब और मासूम जनता का खून चूस रहा है। मीडिया के माध्यम से इस संदर्भ में दुर्गेश पाठक ने दो मांग रखी जो निम्न प्रकार से है….

1) भारतीय जनता पार्टी निशांत पांडे एवं उसके पूरे गिरोह को पार्टी से तुरंत प्रभाव से निष्कासित करें और इनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करें।


2) दिल्ली पुलिस इस मामले का संज्ञान लेते हुए इन लोगों के खिलाफ भ्रष्टाचार का और अन्य जो भी मामला बनता है, उसमें तुरंत प्रभाव से एफआईआर दर्ज करें और इनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करें।

अंत में दुर्गेश पाठक ने कहा यदि भारतीय जनता पार्टी इन लोगों के खिलाफ कोई सख्त कदम नहीं उठाती, तो हम यह मान लेंगे कि इस भ्रष्टाचार में भारतीय जनता पार्टी के सामान्य कार्यकर्ता से लेकर शीर्ष नेतृत्व तक सभी लोग शामिल हैं।

प्रेस वार्ता में मौजूद आम आदमी पार्टी के त्रिलोकपुरी विधानसभा से विधायक रोहित मेहरोलिया ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि दिल्ली की जनता ने भाजपा के निगम पार्षदों को यह सोचकर चुना था कि जीतने के बाद यह लोग हमारे क्षेत्र का विकास करेंगे, हमारी गली की सड़कें, नालियां बनवाएंगे, हमारे लिए काम करेंगे। परंतु उसके उलट भाजपा के निगम पार्षदों ने विकास कार्य को छोड़कर जनता का खून चूसना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा यह मुद्दा केवल बिल्डर तक सीमित नहीं है। यह समस्या उस क्षेत्र में रहने वाले हर आम आदमियों के साथ भी जुड़ी हुई है। ऐसा कोई दिन नहीं जाता, जिस दिन निशांत पांडे जी को लेकर मेरे विधायक कार्यालय में शिकायत नहीं आती है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार इतने चरम पर निशांत पांडे जी ने पहुंचा दिया है कि आज उस क्षेत्र में निशांत पांडे जी आतंक का पर्याय बन चुके हैं। आतंक की पराकाष्ठा इस स्तर की हो चुकी है, कि यदि उस क्षेत्र में कोई गरीब आदमी अपना और अपने बच्चों का पेट काटकर अपने सर पर छत का इंतजाम करने की कोशिश करता है, तो निशांत पांडे जी और उनके गुर्गे उस गरीब आदमी के दरवाजे पर पैसों की उगाही करने के लिए पहुंच जाते हैं। उन्होंने कहा कि यह ऑडियो क्लिप जो मीडिया के समक्ष प्रस्तुत की गई है, इसके बाद और किसी साक्ष्य की जरूरत नहीं रह जाती, यह सिद्ध करने के लिए कि किस प्रकार से भारतीय जनता पार्टी के निगम पार्षद सर से लेकर पांव तक भ्रष्टाचार में डूबे हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

TIME वाली दबंग दादी हापुड़ की रहने वाली हैं, गाँव में जश्न का माहौल

नई दिल्ली : दादी बिलकिस हापुड़ के गाँव कुराना की रहने वाली हैं। टाइम मैगज़ीन में दादी का नाम आने से गाँव...

बिहार विधानसभा चुनाव : तेजस्वी यादव का बड़ा वादा, कहा- ‘पहली कैबिनेट में ही करेंगे 10 लाख युवाओं को नौकरी का फैसला’

पटना (बिहार) : बिहार विधानसभा चुनाव तारीखों का ऐलान हो गया है, 10 नवंबर को चुनावी नतीजे भी आ जाएंगे, पार्टियों ने...

हापुड़ : गंगा एक्सप्रेस-वे एलाइनमेंट बदला तो होगा आंदोलन : पोपिन कसाना

हापुड़ (यूपी) : मेरठ से प्रयागराज के बीच प्रस्तावित गंगा एक्सप्रेस-वे के एलानइमेंट बदले जाने को लेकर स्थानीय निवासियों ने विरोध जताया...

चाचा की जायदाद हड़पने के लिए “क़ासमी” बन्धुओं ने दिया झूठा हलफनामा, दाँव पर लगा दी “क़ासमी” घराने की इज़्ज़त, तय्यब ट्रस्ट भी सवालों...

शमशाद रज़ा अंसारी मुसलमानों की बड़ी जमाअत सुन्नियों में मौलाना क़ासिम नानौतवी का नाम बड़े अदब से लिया जाता...

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का निधन, बीते 6 साल से थे कोमा में, PM मोदी ने शोक व्यक्त किया

नई दिल्ली : दिग्गज बीजेपी नेता जसवंत सिंह का 82 साल की उम्र में निधन हो गया, पीएम मोदी ने उनके निधन पर...