नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी शासित दिल्ली नगर निगम द्वारा पिछले कुछ महीनों से सैलरी नहीं देने से नाराज धरने पर बैठे कर्मचारियों का समर्थन करने एलान किया है। पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि आम आदमी पार्टी के समस्त निगम पार्षद धरने पर बैठे कर्मचारियों के समर्थन में सोमवार से उनके साथ सिविक सेंटर पर धरने पर बैठेंगे। उन्होंने मांग की है कि बीजेपी वालों नगर निगम के कर्मचारियों को तनख्वाह दो या फिर एमसीडी से अपना इस्तीफा दो। कई महीने से सैलरी नहीं मिलने की वजह से नगर निगम कर्मचारियों की दयनीय हालत हो गई है।

उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी शासित दिल्ली नगर निगम ने अपने कर्मचारियों को पिछले कुछ महीनों से सैलरी नहीं दी है। एमसीडी के कर्मचारी सैलरी नहीं मिलने से खासे परेशान हैं। कर्मचारियों का परिवार आर्थिक तंगी से गुजर रहा है और अब उनकी हालत दयनीय होती जा रही है। एमसीडी के कर्मचारी सैलरी को लेकर मेयर समेत अन्य संबंधित लोगों से गुहार लगा चुके हैं, लेकिन एमसीडी की सत्ता में बैठे भाजपा नेताओं को उनकी तकलीफ दिखाई नहीं दे रही है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि दिल्ली नगर निगम के अंदर काम करने वाले कर्मचारियों को पिछले कुछ महीनों से सैलरी नहीं मिली है। इस कोरोना के काल में सैलरी नहीं मिलने के कारण कर्मचारी आर्थिक तंगी से गुजर रहे हैं और उनकी हालत बहुत दयनीय हो गई है। सैलरी नहीं मिलने से नाराज नगर निगम के कर्मचारी सिविक सेंटर पर आज से धरने पर बैठ गए हैं। कर्मचारियों का कहना है कि जब तक उन्हें सैलरी नहीं मिलती है, तब तक वे धरने पर बैठे रहेंगे। दुर्गेश पाठक ने कहा कि धरने पर बैठे नगर निगम के कर्मचारियों के समर्थन में आम आदमी पार्टी भी सोमवार से उनके साथ धरने पर बैठेगी। उन्होंने कहा कि आखिर नगर निगम का जो 18000 करोड़ रुपए का  वार्षिक बजट है, वह पैसा कहां गया? उन्होंने मांग की है कि बीजेपी वालों नगर निगम के कर्मचारियों की तनख्वाह दो या फिर इस्तीफा दो।

रिपोर्ट सोर्स, पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here