नई दिल्ली : अरबाज़ खान ने कुछ ज्ञात और अज्ञात सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया है, जिसमें पोस्ट और ऑनलाइन वीडियो के जरिये उन्हें बदनाम करने का आरोप लगा है। इन पोस्ट में अभिनेता को दिशा सलियन और सुशांत सिंह राजपूत की हाल ही में हुई दुर्भाग्यपूर्ण मौतों में उनकी भागीदारी का आरोप लगाया गया है, जिनकी वर्तमान में जांच चल रही है।

अरबाज खान ने माननीय बॉम्बे सिविल कोर्ट में समक्ष मानहानि का मुकदमा दायर किया है। 28 सितंबर को, माननीय न्यायालय ने नामित प्रतिवादी विभोर आनंद और साक्षी भंडारी और अज्ञात प्रतिवादियों जॉन डे / अशोक कुमार के खिलाफ एक अंतरिम आदेश देने की गुहार लगाई है जिसमें प्रतिवादियों को तुरंत ही यह बदनाम करने वाला पोस्ट हटाने/ वापस लेने का निर्देश दिया है। मुकदमे में वर्णित कंटेंट और कोई भी अन्य बदनामी कंटेंट, जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से किसी भी द्वारा पोस्ट किया गया है और कोई भी अन्य पोस्ट, संदेश, ट्वीट, वीडियो, साक्षात्कार, संचार और बदनामी कंटेंट के समान पत्राचार ट्विटर, फेसबुक, यूट्यूब और अन्य माध्यमों सहित सभी सार्वजनिक डोमेन और सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अरबाज़ खान या उनके परिवार के सदस्यों के संबंध किसी पर पोस्ट किया अपमानजनक कंटेंट हटाने की बात कही गयी हैं। पोस्ट में गलत चित्रण में यह कहा गया है कि अभिनेता को गिरफ्तार किया गया और सीबीआई की अनौपचारिक हिरासत में ले लिया गया है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

यह आदेश न्यायमूर्ति वी.वी. विध्वंस द्वारा पारित किया गया है। डीएसके लीगल के वकील प्रदीप गंधी ने अरबाज खान का प्रतिनिधित्व किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here