अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन की मौत की ख़बर का एम्स ने किया खंडन

नई दिल्ली

अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन की मौत का एम्स अस्पताल ने खंडन किया है। छोटा राजन कोरोना से संक्रमित है तथा उसका दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा है। कई दिनों तक उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।
दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद राजेन्द्र निकल्जे उर्फ छोटा राजन को कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद 26 अप्रैल को नई दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में भर्ती कराया गया है।
वह 2015 में इंडोनेशिया से गिरफ्तारी के बाद नई दिल्ली की उच्च सुरक्षा वाली तिहाड़ जेल में बंद है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App


26 अप्रैल को तिहाड़ जेल के एक अधिकारी ने सत्र न्यायालय को सूचित किया कि गैंगस्टर को सुनवाई के लिए न्यायाधीश के समक्ष वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पेश नहीं किया जा सकता क्योंकि वह कोविड-19 से संक्रमित हो गया है।
61 साल के गैंगस्‍टर छोटा राजन के खिलाफ मुंबई में कम से कम 70 आपराधिक मामले दर्ज हैं। ये हत्‍या से लेकर फिरौती तक से जुड़े हैं। ये सभी मामले सीबीआई की स्‍पेशल कोर्ट को ट्रांसफर किए गए थे।
उसे मुंबई के सीनियर पत्रकार ज्योतिर्मय डे की हत्या में दोषी करार देते हुए आजीवन कैद की सजा सुनाई गई थी। हालांकि पिछले दिनों उसे हनीफ कड़ावाला की हत्या के केस में विशेष सीबीआई कोर्ट ने बरी कर दिया था।
मुंबई में 1993 में हुए सीरियल बम ब्लास्ट में भी छोटा राजन आरोपी था। छोटा राजन का असली नाम राजेंद्र निकालजे था। 2015 में उसे इंडोनेशिया से भारत प्रत्यर्पित कर लाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here