आप विधायक ने की पूसा जाने पर लगी एंट्री फीस समाप्त करने की माँग

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

नई दिल्ली

पूसा (PUSA) को भाजपा सरकार द्वारा आम जनता के लिए बंद कर दिया गया है। अब केवल वही लोग पूसा में जा पाएंगे,जो हर महीने ₹200 की एंट्री फीस भरेंगे। भाजपा सरकार के इस फैसले के खिलाफ आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चड्ढा ने केंद्र सरकार के कृषि मंत्री नरेन्द्र तोमर को चिट्ठी लिख कर इस फैसले को वापिस लेने की मांग की है।
राघव चड्डा ने लिखा है कि इस परिसर के साथ मेरी विधानसभा क्षेत्र के लोगों का गहरा रिश्ता जुड़ा है। मेरी विधानसभा क्षेत्र के हजारों लोग पूसा परिसर में सुबह और शाम को अच्छे स्वास्थ्य के लिए सैर करने जाते हैं। मैं स्वयं बचपन से पूसा परिसर में सैर करता और खेलता आया हूँ।
आजकल के भाग दौड़ भरे जीवन और प्रदूषित वातावरण में क्षेत्र के निवासी अपने आप को बहुत सौभाग्यशाली मानते हैं कि उनके पास सैर करने के लिए पूसा जैसी खूबसूरत जगह है।
आज तक स्थानीय निवासियों पर भ्रमण करने के लिए कोई शुल्क नहीं लगाया जाता था। परन्तु पिछले 1 महीने से सरकार द्वारा पूसा में सैर करने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। अब केवल वही लोग पूसा में जा सकते हैं जो ₹200 का मासिक शुल्क दे सकते हैं।

दिल्ली जल बोर्ड उपाध्यक्ष ने पत्र में आगे लिखा है कि कोरोना महामारी से बचने के लिए अच्छी इम्यूनिटी होनी ज़रूरी है। दिल्ली की केजरीवाल सरकार मानती है कि हर व्यक्ति को अच्छे स्वास्थ्य का अधिकार है। इस प्रकार लोगों को साफ खुली हवा में सैर करने से रोकना और केवल उन लोगों को सैर करने देना जो हर महीने सैर करने के लिए एक रकम दे सकते हैं, ये आम जनता, गरीब जनता के अच्छे स्वास्थ्य के अधिकार के खिलाफ है। इस तरह का एकतरफा आदेश न केवल निवासियों के मनोबल को कम कर रहा है बल्कि स्वास्थ्य के प्रति सरकार द्वारा चलाए जा रहे जागरूकता अभियानों की दिशा में भी संस्थान के नकरात्मक रवैये को दर्शाता है।
युवा विधयक ने कहा कि मेरे पास हर दिन कई निवासी आते हैं और कहते हैं कि केंद्र सरकार से अपील कर मैं इस ऑर्डर को वापिस करवाने का प्रयास करूँ।


राजेन्द्र नगर विधायक ने कृषि मंत्री से निवेदन करते हुये कहा है कि इस तरह के अनावश्यक आदेश एवं शुल्क लागू करने वाले ऑर्डर को खारिज करवाएं और पहले की तरह ही सभी निवासियों को सैर करने की अनुमति प्रदान करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here