जनविरोधी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र संशोधन बिल 2021 को अविलंब वापस लिया जाए: विकास गोयल

विकास गोयल ने कहा

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App
  • आप सरकार द्वारा किए गए कार्यों की विश्वव्यापी प्रशंसा से डरकर यह बिल लाई केंद्र सरकार
  • दिल्ली की चुनी हुई सरकार को उपराज्यपाल तथा केंद्र की कठपुतली बनाया
  • सुनीता मिश्रा और रामचंद्र को निगम उप चुनाव में भारी मतों से जीतने पर बधाई
  • भलस्वा लैंडफिल साइट पर आई ऑडिट रिपोर्ट पर जांच हो, दोषी अधिकारियों या नेताओं पर सख्त कार्रवाई की जाए

नई दिल्ली
उत्तरी दिल्ली नगर निगम में नेता विपक्ष विकास गोयल ने निगम सदन की बैठक में धारा-74 के अंतर्गत दो प्रस्ताव लगाए। पहला प्रस्ताव शालीमार (पूर्वी) वार्ड संख्या 62 से सुनीता मिश्रा तथा रोहिणी सी, वार्ड संख्या 32 से रामचंद्र के निगम उपचुनाव में भारी मतों से जीतने पर उन्हें बधाई दी। विकास गोयल ने निगमों के उपचुनाव में 4 वोटों पर आम आदमी पार्टी की जीत तथा भारतीय जनता पार्टी की पांचों सीटों पर हार को निगमों में पिछले 14 वर्षों से सत्तारूढ़ भाजपा के भ्रष्टाचार एवं कुशासन को कारण बताते हुए कहा कि दिल्ली की जनता ने भाजपा को सिरे से नकार दिया है और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के जनहित के कार्यों को सराहा है। नेता विपक्ष ने उपचुनाव में करारी हार को देखते हुए दिल्ली सरकार से अनुरोध किया है कि तीनों निगमों के तुरंत प्रभाव से भंग करने की समुचित कार्यवाही की जाए।
विकास गोयल ने केंद्र सरकार द्वारा संसद में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र संशोधन बिल 2021 को पास किए जाने को लोकतंत्र की हत्या तथा दिल्ली की जनता के साथ विश्वासघात बताया है। उन्होंने कहा कि केंद्र की भारतीय जनता पार्टी की सरकार दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दिल्ली की जनता के हित में बिजली के बिल आधे किए जाने, 20 हज़ार लीटर पानी मुफ्त दिए जाने, महिलाओं को फ्री बस यात्रा करवाने, बुजुर्गों को फ्री तीर्थ यात्रा करवाने तथा शिक्षा एवं स्वास्थ्य के क्षेत्र में अद्भुत कार्य किए जाने तथा आम आदमी पार्टी द्वारा किए गए कार्यों की विश्वव्यापी प्रशंसा से डरकर यह बिल लाई है जिसमें दिल्ली की चुनी हुई सरकार को उपराज्यपाल तथा केंद्र की कठपुतली बना दिया है।
विकास गोयल ने दिल्ली सरकार के माध्यम से केंद्र सरकार से आग्रह किया है कि इस जनविरोधी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र संशोधन बिल 2021 को अविलंब वापस लिया जाए। विकास गोयल, नेता विपक्ष द्वारा भलस्वा लैंडफिल साइट पर लगाए गए अल्पकालिक प्रश्न पर बोलते हुए कहा कि ट्रॉमल मशीनों को किराए पर लगाए जाने तथा कूड़े को उठाने जाने में भारी भ्रष्टाचार हुआ है। विकास गोयल ने भलस्वा लैंडफिल साइट पर आई ऑडिट रिपोर्ट पर जांच करवाने की मांग करते हुए कहा कि दोषी अधिकारियों और नेताओं को बख्शा नहीं जाए तथा उन पर सख्त कार्रवाई की जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here