ज़िलाधिकारी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की कोरोना महामारी नियंत्रण के कार्यों की समीक्षा

  • आरटी पीसीआर व कांटेक्ट रेसिंग ना बढ़ने पर होगी कार्यवाही
  • जिलाधिकारी ने ग्रामीण क्षेत्रों में पॉजिटिविटी रेट बढ़ने पर की चिंता व्यक्त
  • जहां पॉजिटिव रेट ज्यादा , वहां आरटी पीसीआर बढ़ाया जाए


मुह़म्मद अशरफ़

मेरठ। ज़िलाधिकारी के. बालाजी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ कोरोना महामारी नियंत्रण के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आरटी पीसीआर व कांटेक्ट रेसिंग ना बढ़ने पर संबंधित एमओआईसी के विरुद्ध कार्यवाही की जा सकती है | उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में पॉजिटिविटी रेट बढ़ने पर व उसके अनुरूप कांटेक्ट रेसिंग ना बढ़ाने पर अपनी चिंता व्यक्त की।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

जिलाधिकारी ने कहा कि शासन से प्राप्त रिवाइज फॉर्मेट के अनुसार कार्य करें| जिलाधिकारी ने कहा कि जहां पॉजिटिव रेट ज़्यादा है वहां आरटी पीसीआर बढ़ाया जाए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अखिलेश मोहन ने कहा कि आगे आने वाले दिनों में जनपद को अधिक वैक्सीन उपलब्ध होंगी |उन्होंने कहा कि सभी कार्य एक साथ संचालित होंगे।

डॉक्टर अशोक तालियान ने कहा कि जीरो से 18 वर्ष के लिए कम से कम 15 परसेंट सेंपलिंग होनी चाहिए | उन्होंने कहा कि सभी टीम टेस्टिंग, सेंपलिंग व उनके यहां कितनी निगरानी समिति कार्यरत हैं आदि बिंदुओं पर लिखित में प्रतिदिन सूचनाएं उपलब्ध कराएं। डॉक्टर पी पी सिंह ने कहा कि बाल सुधार गृह, राजकीय प्रेक्षागृह आदि स्थानों पर भी सैंपलिंग कराया जाएगा|

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने बताया कि आज जनपद में 13000 से ज्यादा टीकाकरण कराया गया है। इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट एसके सिंह सहित सभी एमओआईसी अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here