नई दिल्ली : कृषि कानूनों और किसानों के प्रदर्शन पर सियासत गरमा गई है, विपक्षी पार्टियां भी मोदी सरकार पर हमलावर हैं, वहीं, केजरीवाल सरकार और मोदी सरकार के बीच भी इस मसले पर ठनी हुई है.

AAP ने मोदी सरकार और केजरीवाल पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए CM केजरीवाल को हाउस अरेस्‍ट करने का आरोप लगाया था, अब दिल्‍ली पुलिस ने AAP के इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

DCP एंटो अल्‍फोंस ने AAP के दावों को नकारते हुए कहा कि दिल्‍ली के CM हाने के नाते केजरीवाल जहां भी चाहें जा सकते हैं, उन्‍होंने AAP के बयान को भी गलत बताया है.

दरअसल, कुछ देर पहले अब AAP ने दिल्‍ली पुलिस पर CM केजरीवाल को हाउस अरेस्‍ट करने का आरोप लगाया था, AAP ने ट्वीट कर कहा था कि सोमवार को सिंघु बॉर्डर से लौटने के बाद दिल्‍ली पुलिस ने CM केजरीवाल को नजरबंद कर दिया है.

AAP ने ट्वीट कर कहा था कि सोमवार को सिंघु बॉर्डर पर किसानों से मुलाकात कर लौटने के बाद BJP की दिल्‍ली पुलिस ने CM केजरीवाल को हाउस अरेस्‍ट कर लिया, किसी को भी उनके आवास में जाने या बाहर आने की अनुमति नहीं है.

बता दें कि CM केजरीवाल ने सोमवार को सिंघू बॉर्डर पर जाकर आंदोलनकारी किसनों से मुलाकात की थी, इस दौरान केजरीवाल ने कहा था मैंने यहां इंतजाम का जायजा लिया, स्टेडियमों का अस्थायी जेल के तौर पर इस्तेमाल करने की अनुमति देने के लिए हम पर काफी दबाब बनाए गए.

लेकिन हमने अनुमति नहीं दी और मुझे लगता है कि इससे आंदोलन को सहायता मिली, उसके बाद से हमारी पार्टी के विधायक और मंत्री यह सुनिश्चित करने में जुटे हैं कि किसानों को किसी भी तरह की दिक्कतें ना हों.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here