नई दिल्ली : अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी अपनी स्थापना का शताब्दी समारोह मना रही है, पीएम मोदी ने एएमयू के छात्रों, टीचर और दूसरे स्टाफ को संबोधित किया था, 25 दिसंबर को आईपीएस संजीव भट्ट की पत्नी श्वेता भट्ट एएमयू के छात्रों को संबोधित करेंगी.

आईपीएस अधिकारी संजीव भट्ट ने ही गुजरात दं’गों पर गंभीर सवाल उठाए थे, इसके बाद उन्हें 30 साल पुराने एक मामले में उम्र कै’द की स’जा सुनाई गई थी, वो फिलहाल जेल में हैं.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

एएमयू कॉर्डिनेशन कमेटी इस कार्यक्रम का आयोजन कर रही है, सर सैयद नॉर्थ हॉल में यह कार्यक्रम रखा गया है, कार्यक्रम का आयोजन 25 दिसंबर की शाम 6 बजे रखा गया है.

श्वेता भट्ट का संबोधन ऑनलाइन होगा, इसे एएमयू कॉर्डिनेशन कमेटी के फेसबुक पेज पर भी लाइव किया जाएगा, इसके लिए कमेटी से जुड़े छात्रों ने प्रचार-प्रसार शुरू कर दिया है.

हमें समझना होगा कि सियासत सोसाइटी का अहम हिस्सा है, लेकिन सोसाइटी में सियासत के अलावा भी दूसरे मसले हैं, सियासत और सत्ता की सोच से बहुत बड़ा, बहुत व्यापक किसी देश का समाज होता है.

6 साल पहले तक देश में सिर्फ 7 एम्स थे, आज देश में 22 एम्स हैं, शिक्षा चाहे ऑनलाइन हो या फिर ऑफलाइन, सभी तक पहुंचे, बराबरी से पहुंचे, सभी का जीवन बदले, हम इसी लक्ष्य के साथ काम कर रहे हैं.

वर्ष 2014 में हमारे देश में 16 IITs थे, आज 23 IITs हैं, वर्ष 2014 में हमारे यहां 13 IIMs थे, आज 20 IIMs हैं,

आज देश जो योजनाएं बना रहा है वो बिना किसी मत मजहब के भेद के हर वर्ग तक पहुंच रही हैं, बिना भेदभाव, 40 करोड़ से ज्यादा गरीबों के बैंक खाते खुले, बिना भेदभाव, 2 करोड़ से ज्यादा गरीबों को पक्के घर दिए गए.

बिना भेदभाव 8 करोड़ से ज्यादा महिलाओं को गैस मिला, सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास ये मंत्र मूल आधार है, देश की नीयत और नीतियों में यही संकल्प झलकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here