नई दिल्ली : ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलिमीन के प्रमुख असदउद्दीन औवेसी ने अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास समारोह के मौके पर बाबरी मसजिद को याद किया, उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ‘बाबरी मसजिद थी, है और रहेगी,’ उन्होंने इसके पहले ट्वीट कर कांग्रेस पार्टी पर तंज किया था और कहा था कि ‘राजीव गांधी ही थे, जिन्होंने बाबरी मसजिद का ताला खोला था, पी. वी. नरसिम्हा राव ही थे, जिन्होंने प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए विध्वंस देखा था.

ओवैसी ने एक ट्वीट में लिखा था कि ‘जिसका हक़ बनता है, उसे क्रेडिट दिया जाना चाहिए, आखिर वो राजीव गांधी ही थे, जिन्होंने बाबरी मसजिद का ताला खोला था और वो पीवी नरसिम्हा राव ही थे, जिन्होंने प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए ये पूरा विध्वंस देखा था, कांग्रेस संघ परिवार के साथ विध्वंस के इस अभियान में हाथ में हाथ डाले खड़ी रही,’ साथ ही ओवैसी ने यह भी लिखा कि ‘हम भूल नहीं सकते कि ‘400 साल तक अयोध्या में बाबरी मस्जिद खड़ी रही थी और उसे 1992 में अपराधी भीड़ ने ढहा दिया था.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

रिपोर्ट सोर्स, पीटीआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here