नई दिल्ली : दिल्ली में कोविड-19 के बढ़ते हुए मामलों के बीच सीएम केजरीवाल ने आज दिल्ली के लोकनायक अस्पताल का दौरा किया और व्यवस्थाओं का जायज़ा लिया.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि लोगों को अस्पताल में अच्छी व्यवस्था मिले ये हमारी कोशिश है, सीएम ने दिल्ली में लॉकडाउन लगाने की संभावना से इंकार किया लेकिन ये भी कहा कि कुछ पाबंदियां लगाए जाने की ज़रूरत है जिनका जल्द एलान किया जाएगा.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर सीएम ने कहा कि कुछ दिनों से पूरे देश में कोरोना के केस बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं और दिल्ली में भी उसी तेजी से कोरोना के केस में बढ़ोत्तरी देखने को मिली है, एक तरफ हम लोगों को वैक्सीनेशन तेज करने की जरूरत है और दूसरी ओर संक्रमण को फैलने से बचाने की जरूरत है.

साथ ही, हॉस्पिटल मैनेजमेंट को भी दुरुस्त करने की जरूरत है, यह कोरोना की चौथी लहर दिल्ली में आई है, नवंबर में पिछली लहर आई थी और उसके बाद केस इतने ज्यादा कम हो गए थे कि सिस्टम में थोड़ा ढीलापन आ गया था.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से मैं रिव्यू कर रहा हूँ और आज लोकनायक अस्पताल का सारा सिस्टम वापस देखा है, जो नवम्बर में हमारी तैयारी थी हम वापस वैसी ही तैयारी कर रहे हैं, नवम्बर की वेव को दिल्ली में डॉक्टर्स और नर्सेज ने मिलकर बहुत अच्छे से हैंडल किया था, उसी स्तर की तैयारी को वापस दिल्ली सरकार और सारे हॉस्पिटल मिलकर कर रहे हैं.

आज लोकनायक का मुआयना किया है जो ज़रूरत है अस्पताल में उसे एमएस और डॉक्टर्स ने हमें बताया, उन सारी चीज़ों को पूरा करेंगे और दिल्ली के लोगों को किसी तरह की तकलीफ नहीं होने देंगे, अगर कोई बीमार होता है और उसे हॉस्पिटल की ज़रूरत है तो हमारी पूरी कोशिश है कि उसे अच्छे से अच्छे अस्पताल में व्यवस्था मिले.

दिल्ली में वैक्सीनेशन को लेकर ताज़ा स्तिथि पर बात करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वैक्सीनेशन को लेकर मैंने प्रधानमंत्री को चिठ्ठी भी लिखी है, दिल्ली में मैं अपनी व्यवस्था बता सकता हूँ बाकी देश के बारे में बात नहीं कर सकता.

अगर हमें समुचित संख्या में वैक्सीन की डोज़ उपलब्ध करा दी जाए, उम्र की सीमा हटा दी जाये और वैक्सीनेशन सेंटर्स के नियम में बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन सेंटर्स खोलने की इजाज़त दे दी जाए तो हम 2-3 महीने के अंदर पूरी दिल्ली को वैक्सीनेट कर सकते हैं, वैक्सीनेशन अगर हो जाएगा तो कोरोना की जो गंभीरता है वो खत्म हो जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here