नई दिल्ली : कृषि कानूनों पर सरकार व किसानों में जारी तकरार के बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज चौथी बार पश्चिमी यूपी के रण में अपनी धमक दिखाने पहुंचीं। मेरठ से सटे सरधना विधानसभा के कैली गांव में आज प्रियंका गांधी किसानों की नव्ज भांपने की कोशिश की।

मेरठ पहुंचने पर जहां कई स्थानों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं व महिलाओं ने उनका फूलमालाओं से स्वागत किया। वहीं प्रियंका गांधी ट्रैक्टर पर सवार होकर महापंचायत स्थल पहुंचीं और क्षेत्र की जनता का अभिवादन किया। उन्होंने मंच से भाजपा पर जमकर हमला बोला।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

कैली गांव में महापंचायत स्थल पर मंच से प्रियंका गांधी ने भाजपा पर जमकर हमला बोला और कृषि कानूनों को लेकर किसानों की हिमायत की। महापंचायत स्थल पर दो मंच बनाए गए, एक पर प्रियंका गांधी अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे वहीं दूसरे मंच पर स्थानीय और प्रदेश स्तर के पदाधिकारी मौजूद रहे।

किसान महापंचायत में प्रियंका गांधी नीले सूट-सलवार और सफेद दुपट्टे में नजर आई। वह ट्रैक्टर पर सवार होकर महापंचायत स्थल तक पहुंचीं। इस दौरान पार्टी के कार्यकर्ताओं भी उनके साथ मौजूद रहे। वहीं कांग्रेस समर्थकों और किसानों ने प्रियंका गांधी का जोरशोर से स्वागत किया।

किसान महापंचायत में प्रियंका के कद को देखते हुए भीड़ जुटाना कांग्रेसियों के लिए बड़ी चुनौती बना रहा। क्योंकि जिस क्षेत्र में कांग्रेस ने यह जनसभा रखी है, वहां किसान आंदोलन का कोई खास असर नजर नहीं आ रहा है। उम्मीद से काफी कम संख्या में भीड़ महापंचायत में पहुंची।

प्रियंका गांधी ट्रैक्टर में सवार होकर मंचस्थल तक पहुंची और क्षेत्र की जनता का अभिवादन किया। उन्होंने मंच से किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि यह मेरठ की धरती है। यहीं से स्वतंत्रता संग्राम का पहला विद्रोह शुरू हुआ। उस आजादी की लड़ाई में किसान शामिल रहे। हजारों किसान आंदोलन में जुटे। बहुत लोग शहीद हुए।

अंग्रेजी साम्राज्य किसानों को परेशान कर रहा था। भाजपा की सरकार भी किसानों का शोषण कर रही है। ऐसे कानून हैं जिससे आपकी कमाई ठीक से नही मिल पाएगी। ये कृषि कानून बड़े उद्योगपतियों को लाभ देगा। तीनों कृषि कानून में खरबपति और दूसरी तरफ आप, तो आपको क्या लाभ मिलेगा?

उन्होंने कहा कि इन कानूनों को बनाने से पहले किसी किसान से नहीं पूछा गया। आज सौ दिन पूरे हो  गए। किसान दिल्ली बॉर्डर पर क्यों बैठे हैं, अगर कानून आप लोगो के लिए बने हैं। किसानों ने इस देश को आजादी दिलाई। किसान में हिम्मत की कमी नहीं। आत्मशक्ति की कमी नहीं है। अगर किसान बॉर्डर पर बैठा है, तो क्या प्रधानमंत्री को उसका आदर नही करना चाहिए। पानी काटा गया, बिजली काटी गई?

कहा कि अमेरिका, पाकिस्तान, चीन घूमकर आए लेकिन अपने यहां ही नही जा रहे। उनकी सरकार बड़े बड़े  उद्योगपतियों के लिए चल रही है। उनके केवल दो ही मित्र हैं। बिजली के दाम बढ़ गए, पेट्रोल-डीजल का दाम बढ़ गया। हर तरफ से आप पर वार है। इस स्थिति को बदलने के लिए खड़े रहना पड़ेगा। आपकी जो परिस्थिति सरकार ने बनाई है। यही परिस्थिति आपको सरकार की बनानी है।किसानों से कहा – आपके गन्ने का बकाया नही, हवाई जहाज खरीदे।

प्रियंका गांधी ने मंच से कहा कि उत्तर प्रदेश का बकाया 10 हजार करोड़ है। मोदी जी ने दो हवाई जहाज खरीदे है। 16 हजार करोड़ में हवाई जहाज खरीदे हैं। पूरे देश का बकाया 15 हजार करोड़ है। संसद के सौन्द्रीयकर्ण के लिए 20 हजार करोड़ रखे हैं। आपके बीमे से 26 हजार करोड़ गए उनके दोस्तों की जेब में।

वहीं इमरान प्रतापगढ़ी ने कैली गांव में आयोजित किसान महापंचायत में कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी ने माहौल बना दिया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल पर चुटकी ली। उन्होंने उनके मित्र अंबानी पर ही शायरी बना दी। 

इससे सभा स्थल तालियों से गूंज उठा। उन्होंने कहा, आपने सुना था कि अच्छे दिन आएंगे लेकिन ये आपके अच्छे दिन की बात नहीं बल्कि दो मित्रों के अच्छे दिनों की बात हो रही थी। ये अच्छे दिन अंबानी और अडानी को मुबारक हों। उन्होंने चंद लाइनों से मोदी सरकार पर निशाना साधा।

हमें तो पुराने दिन ही लौटा दो।

हम सूखे से भी लड़ते हैं बारिश से लड़ते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here