नई दिल्ली : केजरीवाल सरकार किसान आंदोलन के दौरान लापता हुए लोगों का पता लगाने के लिए किसानों के साथ खड़ी है। सरकार ने आज दिल्ली के विभिन्न जेलों में बंद 115 किसानों की सूची जारी की है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली का मुख्यमंत्री होने के नाते मैं जिन लापता लोगों के नाम इस सूची में नहीं है, उनकी तलाश करने का पूरा प्रयास करूंगा और जरूरत पड़ने पर उपराज्यपाल और केंद्र सरकार से बात करूंगा।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

उन्होंने आश्वासन देते हुए कहा कि मैं, मेरी पार्टी और दिल्ली सरकार किसानों के साथ है और किसान आंदोलन से संबंधित लापता लोगों का पता लगा कर उनकी जानकारी परिवार वालों को देंगे। इस जारी सूची से पता लगा सकते हैं कि लापता लोग गिरफ्तार हैं, तो किस जेल में और कब से बंद हैं।

सीएम ने कहा कि कई किसान संगठनों ने मुझसे संपर्क कर बताया है कि 26 जनवरी को किसान आंदोलन में हिस्सा लेने आए उनके परिवार के लोग वापस घर नहीं पहुंचे हैं और वे लापता हैं।

ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई घटना के बाद से लापता लोगों की तलाश कर उनके परिवार वालों को सूचित करने की सभी सरकारों का दायित्व है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बुधवार को डिजिटल प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि पिछले कुछ दिनों से दिल्ली सरकार को कई लोगों ने संपर्क किया है कि उनके घर के लोग, जो दिल्ली किसान आंदोलन में हिस्सा लेने के लिए आए थे, वे वापस घर नहीं पहुंचे हैं।

उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है। उनका कोई अता-पता नहीं है और वे लोग गायब हैं। मैं समझ सकता हूं कि जिन लोगों के घरों के बच्चे, बुजुर्ग या कोई भी अगर घर नहीं पहुंचे हैं और उनसे संपर्क भी नहीं हो पा रहा है, तो उनके घरवालों के ऊपर क्या बीत रही होगी।

सभी सरकारों का दायित्व है कि जो लोग गायब हैं, उनको खोज कर उनके परिवार वालों को सूचित किया जाए।

उन्होंने कहा कि इस संबंध में पिछले कुछ दिनों से कई किसान संगठन, दिल्ली सरकार और मुझसे व्यक्तिगत तौर पर संपर्क किया है। किसान संगठनों के कुछ लोग कल शाम को भी मुझसे मिलने आए थे।

इसके बाद हमने दिल्ली की अलग-अलग जेलों में किसान आंदोलन से संबंधित लोगों के बारे में पता किया है। ऐसा संभव है कि जो लोग गायब हैं, उनको 26 जनवरी वाली घटनाओं को लेकर दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया हो और वे किसी जेल में हों और इस वजह से अपने घर के लोगों से संपर्क न कर पाए हों।

सीएम केजरीवाल ने कहा कि किसान आंदोलन से संबंधित जिन लोगों को गिरफ्तार कर अलग-अलग जेलों में भेजा है, हमारी सरकार ने उन सभी लोगों की सूची बनवाई है। दिल्ली सरकार जन सूचना के लिए यह सूची जारी कर रही है।

दिल्ली की अलग- अलग जेलों के अंदर जिन्हें दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार भेजा है, ऐसे 115 लोगों की सूची में नाम है। यह लोग दिल्ली की अलग-अलग जेलों में है। उनके नाम, पिता का नाम, उम्र, पता और किस तारीख को गिरफ्तार किया गया है, यह पूरी जानकारी हम जारी कर रहे हैं।

सीएम ने कहा कि जिन-जिन लोगों के घर के लोग लापता हैं, वे यह लिस्ट देख सकते हैं। इस सूची से उनको पता चल जाएगा कि उनके घर के लोग कहीं गिरफ्तार तो नहीं हो गए हैं। अगर गिरफ्तार हुए हैं, तो वो कौन सी जेल में हैं और कब से गिरफ्तार हैं।

मैं उम्मीद करता हूं कि बहुत सारे लापता लोगों का इस सूची से पता जाएगा। यदि इसके बाद भी कुछ लोग लापता रह जाते हैं, तो हमने किसान आंदोलन के संगठनों को उन्हें खोजने का आश्वासन दिया है।

सीएम ने कहा, मैं दिल्ली का मुख्यमंत्री होने के नाते आप सब लोगों को आश्वासन देना चाहता हूं कि अगर कोई और भी लापता है, तो उनको खोजने के लिए मैं अपनी तरफ से पूरी कोशिश करूंगा।

इसके लिए अगर जरूरत पड़ेगी, तो मैं उपराज्यपाल और केंद्र सरकार से भी बात करूंगा। मैं अपनी पार्टी और सरकार की तरफ से आश्वासन देना चाहता हूं कि हम चाहते हैं कि आपके घर के जो भी लोग लापता हैं, उनका पता कर, आप को उनके बारे में सूचित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here