Urdu

Epaper Urdu

YouTube

Facebook

Twitter

Mobile App

Home भारत ग़ाज़ियाबाद: तनख़्वाह न मिलने पर रेयान इंटरनेशनल के कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

ग़ाज़ियाबाद: तनख़्वाह न मिलने पर रेयान इंटरनेशनल के कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन

शमशाद रज़ा अंसारी

कोरोना महामारी के कारण लॉक डाउन ने देश की जनता की कमर तोड़ दी है। देश का आमजन वर्तमान में अत्याधिक आर्थिक तंगी का सामना कर रहा है। लोगों के सामने स्कूल की फीस से लेकर मकान-दुकान का किराया देने की समस्या उत्प्नन हो गयी है। ऐसे में जहाँ कुछ सामाजिक संस्थायें आगे आ कर जरूरतमन्दों की मदद कर रही हैं, वहीँ कुछ ऐसे संस्थान भी हैं जो अपने कर्मचारियों का वेतन भी नही दे रहे हैं। पूरे साल अभिभावकों से मोटी फीस वसूलने वाले बड़े स्कूलों के भी यही हाल हैं। सरकार द्वारा फीस मांगने का दबाव न बनाने का निर्देश देने के बावजूद स्कूल अभिभावकों पर तो फीस देने का दबाव बना रहे हैं लेकिन स्वयं अपने कर्मचारियों का वेतन नही दे रहे हैं। अफसोस की बात तो यह है कि यह हाल उन स्कूलों का है जो बच्चों से भारी भरकम फीस वसूलते हैं।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

ऐसा ही मामला जनपद ग़ाज़ियाबाद के नामी स्कूल रेयान इंटरनेशन स्कूल का है। जिसके कर्मचारियों ने तनख़्वाह न मिलने पर सोमवार को स्कूल के सामने प्रदर्शन किया।

गाजियाबाद के डासना क्षेत्र में एनएच 24 पर रेयान इंटरनेशनल स्कूल है। सोमवार को स्कूल के बस चालक, हेल्पर और आया आदि कर्मचारियों ने तनख़्वाह न मिलने पर स्कूल के गेट पर जोरदार प्रदर्शन किया। कर्मचारियों का आरोप है कि लॉकडाउन के दरम्यान स्कूल प्रशासन ने अपने सभी कर्मचारियों से यथासंभव मदद का आश्वासन दिया था। लेकिन यह केवल कोरा आश्वासन ही निकला। स्कूल प्रशासन ने पिछले तीन महीने से उनका वेतन तक नही दिया है।

कर्मचारियों ने बताया लॉकडाउन के बाद से परिवार की आर्थिक स्थिति बेहद तंग हो गयी है। कई कर्मचारियों का कहना है कि अब तो घर में खाने के लिए दो वक्त की रोटी के भी पैसे नहीं बचे हैं। स्कूल कर्मचारियों ने स्कूल के गेट पर प्रदर्शन करते हुए स्कूल प्रशासन को खत लिखकर बकाया वेतन देने का आग्रह किया है। कर्मचारियों ने पत्र में लिखा कि उनका रुक हुआ वेतन दिया जाए। जिससे उनके घर की आर्थिक स्थिति पहले की तरह सुचारू रूप से चलने लगे। इस मामले में स्कूल प्रशासन से बात करने का प्रयास किया गया तो स्कूल प्रशासन ने मामले पर चुप्पी साध ली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

डाॅ. जोगिंदर के परिजनों को एक करोड़ रुपये की सहायता राशि दी, भविष्य में भी परिवार की हर संभव मदद करेंगे : CM केजरीवाल

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज डाॅ. बाबा साहब अंबेडकर मेडिकल हाॅस्पिटल एंड काॅलेज में एड-हाॅक पर जूनियर रेजिडेंट रहे कोरोना...

गुजरात : पत्रकार कलीम सिद्दीकी को तड़ीपार का नोटिस, देश भर में हो रही है आलोचना, बोले कलीम- ‘नोटिस कानून व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह’

ऩई दिल्ली/अहमदाबाद : 30 जुलाई को पत्रकार कलीम सिद्दीकी अहमदाबाद शहर के एसीपी कार्यालय में उपास्थि हो कर तड़ीपार मामले में अपना...

बिहार: तेज प्रताप यादव ने किया बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा, बोले- ‘CM का सारा सिस्टम हो गया फेल, बिहार की जनता बेहाल’

नई दिल्ली/बिहार: बिहार इस समय दो-दो आपदाओं की मार झेल रहा है, कोरोना के साथ ही बाढ़ से त्राहिमाम मचा हुआ है,...

भोपाल : बोले दिग्विजय सिंह- “राम मंदिर का शिलान्यास कर चुके हैं राजीव गांधी”

नई दिल्ली/भोपाल : राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यस के मुहूर्त को लेकर सवाल उठाए हैं, उन्होंने 5...

सहसवान : नगर अध्यक्ष शुएब नक़वी आग़ा ने मनाया रक्षा बंधन पर्व, पेश की गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल

सहसवान/बदायूँ (यूपी) : रक्षाबंधन पर्व की यही विशेषता है कि यह धर्म-मज़हब की बंदिशों से परे गंगा-जमुनी तहज़ीब की नुमाइंदगी करता है,...