नई दिल्ली: दिल्ली की गर्मी और सर्दी दोनों ही बहुत भयंकर होती है, हर बार की तुलना में इस बार तापमान कुछ कम रह रहा था लेकिन शुक्रवार को गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए, आईएमडी वेदर के मुताबिक दिल्ली के पालम क्षेत्र में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के स्तर को पार कर गया वहीं सफदरजंग में पारा सामान्य से चार डिग्री अधिक 43.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, वहीं दिल्ली में औसत पारा 44 डिग्री के ऊपर रहा, इसके साथ ही बाहर गर्म हवाओं के थपेड़े भी खूब चले, मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक आने वाले चार से पांच दिन ऐसे ही रहेंगे,

वहीं, आइएमडी ने शुक्रवार को हल्की बारिश के साथ बूंदाबांदी की आशंका जताई थी, ऐसे में लोग पूरे दिन आसमान की ओर टकटकी लगाए देखते रहे, लेकिन आसमान से बारिश की एक बूंद नहीं गिरी, इससे पहले शुक्रवार सुबह 9 बजे से ही तेज धूप खिल गई, इसके बाद दोपहर 12 बजे चिलचिलाती धूप और चल रही गर्म हवाओं ने लोगों को घरों में रहने को मजबूर किया, मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली के पालम क्षेत्र में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के स्तर को पार कर गया वहीं सफदरजंग में पारा सामान्य से चार डिग्री अधिक 43.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, लोधी रोड और अयानगर के मौसम केंद्रों ने अपना अधिकतम तापमान 44.4 डिग्री सेल्सियस और 44.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया,

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि उत्तर-पश्चिम भारत में चल रही गर्म और शुष्क उत्तरी हवाओं के कारण दिल्ली-एनसीआर में पूरे हफ्ते गर्मी की लहर जारी रहने की संभावना है, उन्होंने बताया कि व्यापक क्षेत्रों में जब तापमान लगातार दो दिन तक 45 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया जाता है तो उसे लू चलना घोषित किया जाता है, वहीं अगर लगातार दो दिन तक तापमान 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाए तो उसे गंभीर लू वाली श्रेणी में रखा जाता है, आईएमडी के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी जैसे अपेक्षाकृत छोटे क्षेत्रों में अगर तापमान एक दिन के लिए भी 45 डिग्री सेल्सियस पहुंच जाए तो लू चलना घोषित किया जाता है,

बता दें कि गुरुवार का दिन इस सीजन का सबसे अधिक तापमान (42.7 डिग्री) वाला दिन था, राजधानी के सभी मौसम केंद्रों की अपेक्षा पालम वेधशाला में सबसे ज्यादा 44.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार शहर में मौसम को लेकर आंकड़ों का प्रतिनिधित्व करने वाली सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जो कि सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस ज्यादा है

नई दिल्ली: दिल्ली की गर्मी और सर्दी दोनों ही बहुत भयंकर होती है, हर बार की तुलना में इस बार तापमान कुछ कम रह रहा था लेकिन शुक्रवार को गर्मी ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए, आईएमडी वेदर के मुताबिक दिल्ली के पालम क्षेत्र में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के स्तर को पार कर गया वहीं सफदरजंग में पारा सामान्य से चार डिग्री अधिक 43.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, वहीं दिल्ली में औसत पारा 44 डिग्री के ऊपर रहा, इसके साथ ही बाहर गर्म हवाओं के थपेड़े भी खूब चले, मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक आने वाले चार से पांच दिन ऐसे ही रहेंगे,

वहीं, आइएमडी ने शुक्रवार को हल्की बारिश के साथ बूंदाबांदी की आशंका जताई थी, ऐसे में लोग पूरे दिन आसमान की ओर टकटकी लगाए देखते रहे, लेकिन आसमान से बारिश की एक बूंद नहीं गिरी, इससे पहले शुक्रवार सुबह 9 बजे से ही तेज धूप खिल गई, इसके बाद दोपहर 12 बजे चिलचिलाती धूप और चल रही गर्म हवाओं ने लोगों को घरों में रहने को मजबूर किया, मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली के पालम क्षेत्र में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस के स्तर को पार कर गया वहीं सफदरजंग में पारा सामान्य से चार डिग्री अधिक 43.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, लोधी रोड और अयानगर के मौसम केंद्रों ने अपना अधिकतम तापमान 44.4 डिग्री सेल्सियस और 44.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया,

आईएमडी के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि उत्तर-पश्चिम भारत में चल रही गर्म और शुष्क उत्तरी हवाओं के कारण दिल्ली-एनसीआर में पूरे हफ्ते गर्मी की लहर जारी रहने की संभावना है, उन्होंने बताया कि व्यापक क्षेत्रों में जब तापमान लगातार दो दिन तक 45 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया जाता है तो उसे लू चलना घोषित किया जाता है, वहीं अगर लगातार दो दिन तक तापमान 47 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाए तो उसे गंभीर लू वाली श्रेणी में रखा जाता है, आईएमडी के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी जैसे अपेक्षाकृत छोटे क्षेत्रों में अगर तापमान एक दिन के लिए भी 45 डिग्री सेल्सियस पहुंच जाए तो लू चलना घोषित किया जाता है,

बता दें कि गुरुवार का दिन इस सीजन का सबसे अधिक तापमान (42.7 डिग्री) वाला दिन था, राजधानी के सभी मौसम केंद्रों की अपेक्षा पालम वेधशाला में सबसे ज्यादा 44.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार शहर में मौसम को लेकर आंकड़ों का प्रतिनिधित्व करने वाली सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया जो कि सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस ज्यादा है,



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here