नई दिल्ली : देश आज 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है, राजपथ पर जहां भारत की ताकत की झलक दिखेगी तो वहीं लद्दाख में भी जवान देश के शौर्य और सम्मान का यह पर्व मनाते दिखाई दिए.

आईटीबीपी के जवान लद्दाख में 17000 फीट पर माइनस 25 डिग्री तापमान के बीच बर्फ बन गई झील पर राष्ट्रीय ध्वज के साथ गणतंत्र दिवस समारोह मानते दिखे.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

बता दें कि राजपथ पर आज परेड कई मायनों में अलग है, कोविड-19 महामारी के साये में हो रही परेड में कुछ बदलाव ज़रूर किए गए हैं, इस बार परेड में क्या ख़ास होगा.

महामारी के खतरे के मद्देनजर इस बार परेड विजय चौक से शुरू होकर नेशनल स्टेडियम तक जाएगी जबकि हर बार परेड राजपथ से शुरू होकर लाल किले तक जाती थी, इस वजह से इसकी लंबाई करीब 8 किलोमीटर की बजाय महज साढ़े तीन किलोमीटर के आसपास ही होगी.

हर बार परेड में शामिल होने वाले एक कॉन्टिनजेंट मे 144 सैनिक होते हैं, इस बार दस्ता छोटा होगा और इसमें 96 सैनिक ही होंगे, इस बार परेड में सेना और अर्द्धसैनिक बलों के कुल 18 दस्ते हिस्सा लेंगे.

इस बार भूतपूर्व सैनिकों का दस्ता नहीं होगा, इस बार तकरीबन 25 हज़ार दर्शक ही राजपथ पर यह परेड देख सकेंगे, जबकि हर बार यह संख्या एक लाख पंद्रह हजार होती थी, परेड का मुख्य आकर्षण बांग्लादेश का 122 सदस्यों का कॉन्टिनजेन्ट होगा.

परेड में विभिन्न राज्यों की 32 झांकियां निकाली जाएंगी, नवंबर, 2019 में राम मंदिर का फैसला आने के बाद अब इस बार रिपब्लिक डे परेड में झांकी में राम मंदिर की प्रस्तुति होगी.

परेड के बाद होने वाले फ्लाई पास्ट में कुल 42 एयरक्राफ्ट हिस्सा लेंगे जिनमें 15 फाइटर एयरक्राफ्ट होंगे, फ्रांस से आया राफेल एयरक्राफ्ट वर्टिकल चार्ली दिखाएगा जो मुख्य आकर्षण होगा.

साथ ही सुखोई और जगुआर जैसे लड़ाकू विमान भी अपना जौहर दिखाएंगे, रिपब्लिक डे कि इस परेड में पहली बार महिला लड़ाकू फाइटर पायलट- फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत, भारतीय वायु सेना की झांकी का हिस्सा होंगी.

जिसमें हल्के लड़ाकू विमान एलसीए, हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर एलसीएच और सुखोई -30 लड़ाकू विमानों का एक मॉक-अप प्रदर्शन होगा.

परेड में इस बार मुख्य आकर्षण वाले हथियारों में टी 90 मेन बैटल टैंक, भीष्म टैंक, बीएमपी 2, सुपरसोनिक ब्रह्मोस मिसाइल सिस्टम, पिनाका सिस्टम और टी 72 टैंक होंगे.

जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद अब केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख की झांकी भी राजपथ पर दिखाई जाएगी, नौवें सिख गुरु श्री गुरु तेग बहादुर जी के बेमिसाल और सर्वोच्च बलिदान को पंजाब की झांकी में गणतंत्र दिवस पर दर्शाया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here