नई दिल्ली : अरुणाचल प्रदेश में जेडीयू को बड़ा झटका लगा है, यहां जेडीयू के सात में से छह विधायक बीजेपी में शामिल हो गए हैं, अरुणाचल प्रदेश पंचायत और नगर निगम चुनाव के नतीजों की घोषणा.

जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से एक दिन पहले यह खबर सामने आई है, इस मामले में मीडिया के सवाल पर सीएम नीतीश ने कहा कि वो लोग चले गए हैं, यह बात मैं उनसे मीटिंग करने का बाद ही बता पाऊंगा.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

पीपीए के लिकाबाली निर्वाचन क्षेत्र से विधायक करदो निग्योर भी बीजेपी में शामिल हो गए हैं, बुलेटिन के मुताबिक, रमगोंग विधानसभा क्षेत्र के तालीम तबोह, चायांग्ताजो के हेयेंग मंग्फी, ताली के जिकके ताको, कलाक्तंग के दोरजी वांग्दी खर्मा, बोमडिला के डोंगरू सियनग्जू और मारियांग-गेकु निर्वाचन क्षेत्र के कांगगोंग टाकू भाजपा में शामिल हो गए हैं.

जदयू ने 26 नवंबर को सियनग्जू, खर्मा और टाकू को “पार्टी विरोधी” गतिविधियों के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था और उन्हें निलंबित कर दिया था.

जदयू के छह विधायकों ने इससे पहले पार्टी के परिष्ठ सदस्यों को कथित तौर पर बताए बिना तालीम तबोह को विधायक दल का नया नेता चुन लिया था, पीपीए विधायक को भी क्षेत्रीय पार्टी ने इस महीने की शुरुआत में निलंबित कर दिया था.

अरुणाचल प्रदेश के प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष बीआर वाघे ने कहा कि हमने पार्टी में शामिल होने के उनके पत्रों को स्वीकार कर लिया है.

जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक कल से पटना में शुरू हो रही है, 26 दिसंबर को राष्ट्रीय पदाधिकारियों तथा 27 को राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राष्ट्रीय परिषद की बैठक होनी है.

जदयू का दो दिनों तक चलने वाली इस बैठक में बिहार में विधानसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन पर चर्चा होगी, साथ ही पश्चिम बंगाल और असम सहित कई राज्यों में अगले साल चुनाव होना है तो उस पर ही मंथन होगा, अरुणाचल में पार्टी को जो झटका लगा है उस पर भी चर्चा होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here