नई दिल्ली : हरियाणा के फरीदाबाद जिले में किसानों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हो गई है, किसानों की ओर से पत्थरबाजी करने पर पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज किया है, यहां स्थिति गंभीर हो गई है, किसान और पुलिस यहां आमने-सामने आ गए हैं.

बता दें कि सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है, मंगलवार को आंदोलन का 62वां दिन है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

गणतंत्र दिवस की परेड से पहले ही किसानों ने अपना ट्रैक्टर मार्च निकालना शुरू कर दिया है, किसान आंदोलन को लेकर फरीदाबाद पुलिस ने पूरे शहर में सभी प्रमुख सड़कों पर घेराबंदी कर रखी थी, सीकरी में भी बैरिकेड लगाकर नेशनल हाईवे की एक लाइन खोला गया था.

आज पलवल में बैठे मध्य प्रदेश राजस्थान और पलवल के कुछ किसान चोरी-छिपे ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर गांव के रास्ते से होते हुए नेशनल हाईवे सीकरी की ओर बढ़ रहे थे.

पहले तो फरीदाबाद पुलिस ने उन्हें रोककर समझाने का प्रयास किया, लेकिन किसान कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे, इसके बाद जब किसानों ने ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर बैरिकेड्स की ओर आगे बढ़ने का प्रयास किया, तो पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया.

बता दें कि किसानों की ट्रैक्टर रैली को दिल्ली में घुसने से रोकने के लिए जगह-जगह सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हुए थे, लेकिन कई जगहों पर किसानों ने पुलिस के बैरिकेड को तोड़कर राजधानी में घुसने का प्रयास किया, किसानों को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को बल का भी इस्तेमाल करना पड़ा.

अलग-अलग जगहों से मिल रही खबरों के मुताबिक, पुलिस और सुरक्षा बलों ने किसानों को कंट्रोल करने के लिए कहीं लाठी चार्ज किया तो कहीं आंसू गैस के गोले दागे, कहीं-कहीं से वाटर कैनन के इस्तेमाल के भी समाचार हैं.

दिल्ली-गाजियाबाद को जोड़ने वाले गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ दिए गए, पुलिस की तरफ से आंसू गैस के गोले छोड़े गए और लाठीचार्ज भी किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here