नई दिल्ली : भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत ने कहा कि इन दिनों पूरी सरकार कोलकाता के विधानसभा चुनाव के लिए लगी हुई है, इसलिए अब किसानों का प्रतिनिधिमंडल भी अब कोलकाता जाएगा, वहां के किसानों से बात करेगा और सरकार से भी बात करेगा, इसके लिए 13 मार्च की तारीख तय की गई है.

किसान आंदोलन के नेता अब उन जगहों पर भी किसानों के बीच जाने की योजना बना रहे हैं, जहां-जहां चुनाव होने हैं, किसानों का आरोप है कि केंद्र सरकार ने 100 दिन से चल रहे आंदोलन की अनदेखी की, इसलिए वह उसे भी नुकसान पहुंचाने में कसर नहीं छोड़ेंगे.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

किसान केंद्र सरकार द्वारा लाये गये नये कृषि क़ानूनों का विरोध कर रहे हैं, किसानों का कहना है कि जब तक सरकार कृषि कानून वापिस नहीं लेगी, वो वापिस नहीं जायेंगे.

इस बीच, मौसम की चुनौतियों से निपटने के लिए किसानों ने प्रदर्शनस्थलों पर पंखे, मच्छरदानियां, फ़्रिज और अन्य सामान लाने शुरू कर दिये हैं, गुरूवार को टीकरी बॉर्डर पर गर्मी से तैयारियों का नजारा देखने को मिला.

यहां पानी की सप्लाई के लिए बोरवैल किया गया है, गर्मी से बचने के लिए फ्रिज लगा दिया गया है, ठंडक के लिए बांस की छोटी झोपड़ियां बनाई जा रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here