नई दिल्ली : संसद में पारित किये कृषि संबंधी विधेयकों को सहमति नहीं देने की मांग को लेकर 12 विपक्षी दल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मिलेंगे। राज्यसभा में कांग्रेस के सांसद शक्ति सिंह गोहिल ने सोमवार को संसद भवन परिसर में संवाददाताओं को बताया कि कल राज्यसभा में कृषि क्षेत्र के दो महत्वपूर्ण विधेयक बिना मत विभाजन के पारित कर दिये गये। इन विधेयकों को मंजूरी नहीं देने की मांग को लेकर राष्ट्रपति से मिलने के लिए 12 विपक्षी दलों ने समय मांगा है।

राज्यसभा में रविवार को विपक्ष के भारी हंगामें के बीच कृषि सुधारों के दो विधेयकों ‘कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक 2020’ तथा ‘कृषक (सशक्तिकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन एवं कृषि सेवा  करार विधेयक 2020’ को ध्वनिमत से पारित कर दिया गया था लोकसभा इसे इन्हें पहले ही पारित कर चुकी हैं। ये दोनों विधेयक जून में जारी किये गये दो विधेयकों का स्थान लेंगे।      

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here