इटावाः  देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राज्य से निकले गुजरात मॉडल का जिक्र कर केंद्र के अलावा कई राज्य मे भारतीय जनता पार्टी सत्ता पर काबिज हो गई है लेकिन असलियत मे यह तानाशाही का मॉडल है । जिसका मकसद विपक्ष की आवाज को दबाना है और इसकी असलियत जनता जान चुकी है। दिल्ली सरकार के समाज कल्याण मंत्री राजेंद्र पाल गौतम आम आदमी पार्टी संगठन को मजबूती प्रदान करने के लिए दो दिनी दौरे पर इटावा आये हुए है।

उन्होंनें यूनीवार्ता से बातचीत में कहा कि आम आदमी पार्टी अब हर देशवासी को गुजरात मॉडल की असलियत से रूबर करायेगी ताकि हर कोई इससे अच्छी तरह से वाकिफ हो सके । उनका कहना है कि उत्तर प्रदेश के लोग एक बेहतर विकल्प चाहते हैं । प्रधानमंत्री मोदी जिस गुजरात मॉडल की बात करते हैं वह तानाशाही का है जिसमे विपक्ष को बोलने की आजादी नही है । जो भी बोलता है उस पर केस बनाओ, बंद करो, ईडी का छापा डालो, इनकम टैक्स का छापा डालो, रासुका लगाओ, यही है गुजरात मॉडल। इस र्माडल में अच्छे स्कूल नही है, अच्छे अस्पताल भी नही है तो यह मॉडल फेल हो चुका है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

गौतम का कहना है कि जिला स्तर का संगठन काफी पहले उत्तर प्रदेश में बना हुआ है लेकिन तहसील स्तर के अलावा और अन्य निचले स्तर पर संगठन को बनाने की दिशा में व्यापक स्तर पर काम चल रहा है । सिर्फ इतना ही नहीं एक एक गांव गांव में ही पार्टी के कार्यकर्ता जा करके अपनी मौजूदगी का एहसास आम जनमानस को करा रहे हैं। उनका कहना है कि आम आदमी पार्टी जिला पंचायत के चुनाव में बड़े स्तर पर अपने उम्मीदवारो में उतारने जा रही है जिसका असर आगे आने वाले दिनों में प्रभावी नतीजे के तौर पर नजर आयेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here