नई दिल्ली : आतिशी ने प्रेसवार्ता में कहा कि खिचड़ीपुर इलाके से तीन दिन से लापता दलित समाज की बच्ची की आज बेरहमी से हत्या कर दी गई है। मामला दर्ज होने के बावजूद दिल्ली पुलिस उसको खोजने के बजाए भाजपा के नेताओं की सुरक्षा करने में लगी रही।

कल्याणपुरी वार्ड में चुनाव प्रचार करने भाजपा के सांसद गौतम गंभीर और प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता आए तो पुलिस उनके पीछे पीछे घूम रही थी। आदेश गुप्ता जब वहां रैली करने के लिए आए तो महिलाएं, नेताओं और पुलिस को मारने के लिए दौड़ रहीं थी और उनको गालियां दे रही थीं।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

वहीं विधायक अजय दत्त ने कहा कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जवाब दें कि क्या भाजपा के शासन में वाल्मीकि समाज सुरक्षित नहीं है? हमारे दलित और वाल्मीकि समाज के लोगों ने दिल्ली पुलिस से गुहार लगाई कि हमारी बच्ची लापता है लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की। दिल्ली पुलिस तुरंत कातिलों को पकड़े नहीं तो दलित समाज सड़कों पर आ जाएगा और पूरे दिल्ली को जाम कर देगा।

आतिशी ने कहा कि दिल्ली के लोगों, महिलाओं, बेटियों की सुरक्षा करने में दिल्ली पुलिस नाकाम है। इसी तरह का दिल दहलाने वाला एक मामला सामने आया है। पूर्वी दिल्ली के खिचड़ीपुर क्षेत्र से तीन दिन पहले 8 साल की बच्ची लापता हो गई थी। स्थानीय लोग पुलिस के पास गए और रिपोर्ट दर्ज कराई। 

यहां तक कि उस क्षेत्र में लगे दिल्ली सरकार के सीसीटीवी कैमरा में अपहरण की घटना कैद हो गई। जिस व्यक्ति ने बच्ची का अपहरण किया था उसकी फुटेज भी निकल आयी। वह फुटेज भी दिल्ली पुलिस को दे दी गई। इसके बावजूद दिल्ली पुलिस ने तीन दिन तक ना उस बच्ची को और ना ही उस अपहरणकर्ता को खोजा।

उस बच्ची की लाश आज मिली है। 8 साल की बेटी की हत्या कर दी गई है। दिल्ली पुलिस क्या कर रही थी। दिल्ली पुलिस उसी इलाके में 3 दिन से भाजपा के नेताओं की सुरक्षा कर रही थी।

आतिशी ने कहा कि जब वहां पर भाजपा के सांसद गौतम गंभीर और प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता आए तो भाजपा की पुलिस उनके पीछे-पीछे घूम रही थी। लेकिन दिल्ली पुलिस ने 8 साल की लापता बच्ची को खोजने के लिए कुछ नहीं किया।

आज उस बच्ची का बेरहमी से कत्ल हो जाता है। उस क्षेत्र में हालात बेहद खराब हैं। वहां की जनता भाजपा की पुलिस और भाजपा के कार्यकर्ताओं को पीटने के लिए दौड़ रही है। खिचड़ीपुर के बगल में कल्याणपुरी वार्ड में चुनाव चल रहा है। वहां पर आदेश गुप्ता की रैली में भाजपा नेताओं की सुरक्षा के लिए पुलिस मौजूद रही।

जब 8 साल की मासूम बच्ची को अपहरण कर लिया जाता है तो भाजपा की पुलिस कोई एक्शन नहीं लेती है। उस क्षेत्र में यह हालात बन गए कि आदेश गुप्ता वहां रैली करने के लिए आते हैं तो वहां की महिलाएं, नेताओं और पुलिस को मारने के लिए दौड़ रही हैं।

उनको गालियां दे रही हैं और कह रही हैं कि आज तुम इन नेताओं की सुरक्षा कर रहे हो लेकिन जब हमारी बच्ची लापता हुई तब तुम कहां थे। हम आज दिल्ली पुलिस से पूछना चाहते हैं इस शहर में लोगों, महिलाओं, बच्चियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी है? क्योंकि दिल्ली पुलिस भाजपा के अधीन आती है।

क्या आप की जिम्मेदारी सिर्फ भाजपा के नेताओं की सुरक्षा करना है। क्या इस शहर की महिलाओं, बच्चियों के लिए कोई सुरक्षा नहीं है। क्यों दिल्ली में हालात इतने गंभीर हो गए हैं कि दिनदहाड़े 8 साल की बच्ची को उठाकर बेरहमी से कत्ल हो जाता है लेकिन पुलिस कुछ नहीं कर पाती है।

भाजपा की पुलिस को इसका जवाब देना होगा कि क्यों वह 8 साल की बच्चियों की सुरक्षा नहीं कर सकती है और भाजपा के नेताओं की सुरक्षा के लिए हमेशा मौजूद रहती है।

अंबेडकर नगर से विधायक अजय दत्त ने कहा कि हमारे सामने बहुत ही दिल दहलाने वाली घटना आयी है। दलित वर्ग के वाल्मीकि समाज की एक नन्ही सी 8 साल की बेटी तीन  दिन से लापता थी।

उसकी आज हत्या का मामला सामने आया है। हम यह जानना चाहते हैं कि दिल्ली पुलिस क्या कर रही है। जब हमारे वाल्मीकि समाज के लोगों ने दिल्ली पुलिस से जाकर गुहार लगाई कहा कि हमारी बच्ची लापता है तो उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की। सीसीटीवी फुटेज में भी अपराधी दिखा लेकिन उस पर भी कोई कार्रवाई नहीं की।

दिल्ली पुलिस सिर्फ भाजपा के नेताओं के पीछे उनको सुरक्षा देने में व्यस्त है। दिल्ली में ना तो महिलाएं सुरक्षित हैं ना कोई दलित सुरक्षित है। घटना को लेकर वाल्मीकि समाज के लोगों में बड़ा रोष है। दिल्ली की पुलिस नाकारा और निकम्मी है जो कोई काम नहीं कर रही है। हमारे दलित और वाल्मिकी समाज के लोगों की दिक्कतों को कोई नहीं सुन रहा है।

यह अब नहीं चलेगा। गृह मंत्री अमित शाह से पूछना चाहता हूं कि क्या इस देश, दिल्ली में दलित समाज के लोग सुरक्षित हैं। क्या वाल्मीकि समाज के लोग सुरक्षित हैं। दिल्ली पुलिस ने क्यों कार्रवाई नहीं की और क्यों वह हम लोगों के साथ अन्याय कर रहे हैं।

हमारी बेटियां क्या बेटियां नहीं है। यह जो कत्ल हुआ है उसके अपराधियों पर क्या कार्रवाई की है। क्यों अपराधी अभी तक पकड़े नहीं गए है। क्यों आप ऐसी कोताही कर रहे हैं। क्यों दिल्ली पुलिस सिर्फ भाजपा की पुलिस बनकर रह गई है।

क्यों सिर्फ उनके नेताओं को सिर्फ संरक्षण देकर रह गई है। मैं यह मांग करता हूं कि पुलिस तुरंत कातिलों को पकड़े नहीं तो हम सड़कों पर आ जाएंगे और पूरे दिल्ली को जाम कर देंगे। इन हत्यारों को जल्द से जल्द पकड़ा जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here