दिल्ली : कोविड-19 वैश्विक महामारी के कालखंड में चीन की घेराबंदी की कोशिशों के बीच भारत, फ्रांस ऑस्ट्रेलिया के वरिष्ठ अधिकारियों के मध्य बुधवार को यहां पहली त्रिपक्षीय बैठक हुई जिसमें हिन्द प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने के बारे में चर्चा हुई।

विदेश मंत्रालय ने आज यहां बताया कि बैठक की सह अध्यक्षता विदेश सचिव हर्षवर्द्धन शृंगला, फ्रांस के विदेश मंत्रालय के महासचिव फ्रांसुआ देलात्रे तथा ऑस्ट्रेलिया के विदेश एवं व्यापार विभाग की सचिव सुश्री फ्रांसिस एडमसन ने संयुक्त रूप से की जो मुख्य रूप से हिन्द प्रशांत क्षेत्र में आपसी सहयोग बढ़ाने पर केन्द्रित थी।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

बातचीत के दौरान तीनों पक्षों ने कोविड-19 को लेकर घरेलू प्रतिक्रिया के संदर्भ में हिन्द प्रशांत क्षेत्र में आर्थिक एवं भूरणनीतिक चुनौतियों तथा सहयोग की संभावनाओं पर चर्चा की। समुद्री संसाधनों के दोहन एवं अन्य क्षेत्रों में व्यावहारिक सहयोग त्रिपक्षीय तथा आसियान एवं हिन्द महासागरीय क्षेत्रीय संघ के स्तर पर बढ़ाने के बारे में भी बात हुई। तीनों देशों ने प्राथमिकताओं, चुनौतियों और क्षेत्रीय एवं वैश्विक बहुपक्षीय मंचों के रुझानों विशेषकर बहुपक्षीय प्रणाली में सुधारों को बल देने के तरीकों पर भी विचार-विमर्श किया।

तीनों देशों ने पारस्परिक द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने और हिन्द प्रशांत क्षेत्र को शांतिपूर्ण, सुरक्षित, समृद्ध एवं नियम आधारित व्यवस्था वाला बनाने के संकल्प के साथ यह संवाद वार्षिक आधार पर करने पर सहमति जतायी।

रिपोर्ट सोर्स, यूएनआई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here