नई दिल्ली : एलजेपी नेता चिराग पासवान ने सीएम नीतीश कुमार को चिट्ठी लिखकर कोरोना से संक्रमित एक मरीज के गायब होने का मामला उठाया है, दरअसल चिराग के शेखपुरा इलाके के रहने वाले रंजीत कुमार कैंसर का इलाज बीते 6 महीने से मुम्बई में करवा रहे थे, 25 जून को महावीर कैंसर संस्थान वो चेकअप लिए गए थे जहां उनके कोरोना संक्रमण की जांच की गई तो उनको रिपोर्ट पॉजिटिव आई, उसके बाद रंजीत को शेखपुरा आइसोलेशन सेंटर में रखा गया, लेकिन शेखपुरा आइसोलेशन सेंटर से उन्हें पटना एनएमसीएच के लिए रेफ़र कर दिया गया, जिसके बाद 3 जुलाई 2020 को एनएमसीएच हॉस्पीटल में इनको भर्ती करवाया गया.

चिराग की लिखी चिट्ठी के मुताबिक 6 जुलाई को जब इनके परिवार वाले उनसे अस्पताल मिलने गये तो वहां रंजीत कुमार मौजूद नहीं थे, तब से उनका का परिवार अस्पताल के चक्कर लगा रहा है. 

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

रंजीत की धर्मपत्नी अनिता अपने पति को पाने के लिए प्रदेश सरकार और अस्पताल प्रशासन से लड़ रही हैं, चिराग ने इस विषय पर पीएमसीएच  के सुप्रिटेंडेंट डीएम शेखपुरा से मामले की जानकारी विस्तार से ली है, और अनिता की बात भी सबके सामने रखी है, लेकिन कोई मदद परिवार को सरकार से मिलती नहीं दिख रही है, यह घटना अस्पताल प्रशासन के उपर बड़ा सवाल उठता है कि मरीज़ कहां ग़ायब हो गया है, परिवार का आरोप है कि रंजीत की मौत की हो गई है जिसे अस्पताल आंकड़े बढ़ने के डर से छिपा रहा है, इस पत्र में मामले की जांच के लिए चिराग ने मुख्यमंत्री से अपील की है.

रिपोर्ट सोर्स, रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here