नई दिल्लीः  रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने मंगलवार को कहा कि सरकार को 30 करोड़ 2जी मोबाइल उपभोक्ताओं को स्मार्टफोन पर शिफ्ट करने के लिये जल्दी ठोस नीति बनाने का अनुरोध किया है। देश की अग्रणी दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो के मालिक मुकेश अंबानी ने आज चौथी इंडिया मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) को वर्चुअल संबोधित करते हुए उन 30 करोड़ भारतीयों की दशा पर चिंता जताई जो डिजिटल वर्ल्ड में अभी भी 2जी तकनीक का इस्तेमाल करने को मजबूर हैं।

उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि वह इस दिशा में जल्दी ठोस कदम उठाए ताकि यह उपभोक्ता देश की डिजिटल अर्थव्यवस्था से जुड़ कर इसका लाभ उठा सकें। मुकेश अंबानी ने कहा 2जी से 30 करोड़ भारतीयों को मुक्त करने और उन्हें स्मार्टफोन पर शिफ्ट करने के लिए सरकार को जल्दी कोई ठोस नीति बनानी होगी। रिलायंस के चेयरमैन ने अगले वर्ष दूसरी छमाही में स्वदेशी 5जी तकनीक लॉन्च करने की तैयारी के संकेत देते हुए कहा जियो की स्वदेशी 5जी तकनीक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत मिशन की सफलता की गवाह है।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

पीएम मोदी के डिजिटल मिशन की प्रशंसा करते हुए मुकेश अंबानी ने कोविड काल में इसे देश की डिजिटल लाइफ लाइन बताया। सरकार के प्रयासों की सरहाना करते हुए मुकेश ने कहा कि देश जल्द ही सॉफ्टवेयर के साथ हार्डवेयर में भी अपनी महारथ सिद्ध करेगा। मोबाइल कांग्रेस का आयोजन दूरसंचार विभाग और सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने किया है। दूरसंचार उद्योग के इस कार्यक्रम के चौथे संस्करण का आयोजन कोरोना वायरस महामारी के कारण पहली बार वीडियो कांफ्रेन्स के जरिये किया जा रहा है। कांफ्रेंस आठ से 10 दिसंबर तक चलेगी।

इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2020 का विषय ‘समग्र अन्वेषण – स्मार्ट, सुरक्षित, टिकाऊ’ है। इसके आयोजन का उद्देश्य पीएम मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’, ‘डिजिटल समावेश’ और ‘निरंतर विकास, उद्यम तथा अन्वेषण’ को प्रोत्साहित करना है। दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद, दूरसंचार राज्यमंत्री संजय धोत्रे तथा दूरसंचार सचिव अंशु प्रकाश ने कार्यक्रम में उपस्थित रहे। रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के अध्यक्ष मुकेश अंबानी के अलावा भारती समूह के संस्थापक और अध्यक्ष सुनील भारती मित्तल ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

कांग्रेस में 30 से अधिक देशों के 210 राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्पीकर और करीब 3,000 से अधिक प्रतिनिधि के हिस्सा ले रहे हैं। आईएमसी 2020 में विभिन्न मंत्रालयों, दूरसंचार कंपनियों के सीईओ, वैश्विक सीईओ, 5-जी तकनीक के एक्सपर्ट, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई), इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी), डेटा एनालिटिक्स, क्लाउड एंड एज कंप्यूटिंग, ब्लॉकचेन, साइबर-सिक्योरिटी के विशेषज्ञ शिरकत करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here