अमरोहा (यूपी) : जनपद के थाना आदमपुर क्षेत्र के गांव मलकपुर निवासी सुरेश खड़गवंशी की पुत्री कमलेश 6 फरवरी 2019 को घर से लापता हो गई थी जिसकी गुमशुदगी कमलेश के पिता सुरेश ने आदमपुर थाने में कराई थी जिसका कोई सुराग नहीं लगा.

कोई सुराग नहीं मिलने पर पुलिस द्वारा कमलेश के पिता सुरेश वह भाई रूपकिशोर तथा देवेंद्र पुत्र दानिश को पुलिस ने उल्टे ही कमलेश की हत्या के मामले में फंसा कर जेल भेज दिया था, अभी भी सुरेश व रूपकिशोर तथा देवेंद्र तीनों जेल में है.

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर TheHindNews Android App

शुक्रवार सुबह कमलेश का भाई राहुल मैं उसका दोस्त नरेश दोनों पौरारे किसी काम से गए थे, अचानक नरेश की निगाह कमलेश पर पड़ी तो उसने उसे पहचान लिया कमलेश के भाई राहुल ने कमलेश को जिंदा देख दंग रह गया उसने तुरंत परिजनों को फोन कर मौके पर बुलाया, परिजनों ने मौके पर पहुंचकर पुलिस को फोन किया पुलिस ने लड़की को बरामद कर आदमपुर थाने ले आई.

आपको बता दें कि 6 फरवरी 2019 को मल्लापुर निवासी सुरेश की पुत्री कमलेश और राकेश सैनी के साथ चली गई थी राकेश सैनी मलकपुर में हलवाई की दुकान करता था वहीं से वह लड़की को भगा ले गया, जिसका कोई सुराग नहीं लगा तो पुलिस ने पीड़ित परिवार को ही जेल में डाल दिया, लड़की की बरामदगी होने पर ग्रामीणों ने थाने का घेराव किया तथा पुलिस के खिलाफ कार्यवाही की मांग की थाना अध्यक्ष पंकज कुमार वर्मा ने बताया कि मामले की जांच चल रही है पूरी जांच होने के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाए.

ब्यूरो रिपोर्ट, मुज़म्मिल हुसैन, अमरोहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here