Urdu

Epaper Urdu

YouTube

Facebook

Twitter

Mobile App

Home THN स्पेशल

THN स्पेशल

लेख : हालात और सूझबूझ का तक़ाज़ा ये है कि हम तालीम, तिजारत, सियासत वग़ैरा में जो मौक़े हैं उनका फ़ायदा उठाएँ : कलीमुल...

कलीमुल हफ़ीज़ भारत में मुसलमानों की तादाद और अनुपात को सब जानते हैं। आम मुसलमान अपनी तादाद पर फ़ख़्र...

रवीश का लेख : उन्हीं भाषणों में हारते नज़र आ रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी जो उन्हें सियासी चक्रवर्ती बनाते हैं

स्नातक की परीक्षा में कई छात्र प्रश्न का सीधा उत्तर नहीं देते हैं। उत्तर के नाम पर पन्ना भर देते हैं। घंटी...

रवीश का लेख : भाषणजीवी प्रधानमंत्री को आंदोलन में जाने वाला परजीवी नज़र आता है

राज्य सभा में प्रधानमंत्री का दिया भाषण ख़राब तो है ही उससे कहीं ज़्यादा चिन्ताजनक है। प्रधानमंत्री ने भाषण को संयमित स्वर...

रवीश का लेख : अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी के छात्रों को क्यों लगता है कि उनकी सुनी जाएगी?

डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी के छात्रों को इस बात से एतराज़ है कि आफलाइन परीक्षा ली जा रही...

लेख : लोकतन्त्र की हिफ़ाज़त की ज़्यादा ज़िम्मेदारी बहुसंख्यक वर्ग पर आती है: कलीमुल हफ़ीज़

कलीमुल हफ़ीज़ देश ने 26 जनवरी को 72वाँ गणतन्त्र दिवस मनाया है, कोरोना महामारी की वजह से हालाँकि पहले...

रवीश का लेख : माइनस जीडीपी वाले भारत का पहला बजट जिसे शानदार बताया जा रहा है

तालाबंदी के कारण निवेश बैठ गया। नौकरी चली गई। सैलरी घट गई। मांग घट गई। तब कई जानकार कहने लगे कि सरकार...

रवीश का लेख : क्या भारत में प्रेस की आज़ादी बिल्कुल ख़त्म हो जाएगी?

रवीश कुमार मनदीप पुनिया की गिरफ़्तारी से आहत हूँ। हाथरस केस में सिद्दीक़ कप्पन का कुछ पता नहीं चल...

रवीश का लेख : ग़ुलाम मीडिया के रहते कोई मुल्क आज़ाद नहीं होता, गोदी मीडिया से आज़ादी ही नई आज़ादी लाएगी

मेरी यह बात लिख कर पर्स में रख लें। गाँव और स्कूल की दीवारों से लेकर बस, ट्रैक्टर और ट्रक के पीछे...